DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुणे के ओशो आश्रम में गया था हेडली

पुणे के ओशो आश्रम में गया था हेडली

अमेरिका के संदिग्ध आतंकी डेविड हेडली शहर की 2008-09 की यात्रा में ओशो आश्रम में दो बार रूका था लेकिन उसने पुलिस के पास विदेशी नागरिक के रूप में अपना पंजीकरण नहीं करवाया था।

पुलिस के संयुक्त आयुक्त राजेन्द्र सोनवने ने बताया कि हेडली ने 24 जून 2008 और 16 मार्च 2009 को पुणे की यात्रा की थी। आश्रम के संपर्क अधिकारी द्वारा विदेशी नागरिकों के आने के बारे में सौंपी गयी रिपोर्ट की समीक्षा करने के बाद पुलिस को हेडली के आश्रम में आने की सोमवार रात जानकारी मिली थी।
    
सोनवने ने कहा कि पुलिस इस बात की जांच करेगी कि हेडली ने एक विदेशी नागरिक की तरह अधिकारियों के समक्ष अपना पंजीकरण क्यों नहीं करवाया जबकि कानूनन ऐसा करना जरूरी है। आश्रम प्रबंधन कोरेगांव स्थित आश्रम में आने वाले विदेशी यात्रियों के बारे में पुलिस को मासिक रिपोर्ट सौंपता है।
    
पुलिस के अनुसार माना जा रहा है कि हेडली व्यावसायिक वीजा पर पुणे आया था और बाद में मुंबई चला गया। हेडली पर लश्करे तैयबा की ओर से भारत में आतंकी हमलों की साजिश रचने का आरोप है।
    
उन्होंने कहा कि जांच के सिलसिले में हाल में पुणे आये राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के दल के सदस्यों को हेडली की यहां की यात्रा के ब्यौरे सौंप दिये गये हैं। ओशो आश्रम की प्रवक्ता अमत साधना ने बताया कि आश्रम सभी के लिए खुला हुआ है तथा ध्यान के लिए हजारों लोग आते हैं। उन्होंने कहा कि यह संभव हो सकता है कि हेडली यहां आया हो। हम जांच में पुलिस के साथ पूरी तरह सहयोग कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुणे के ओशो आश्रम में गया था हेडली