DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (मंगलवार, 17 नवंबर, 2009)

सिंभावली में पुलिस की बर्बरता ने एक बार फिर हमारे पुलिसिया तंत्र पर उठ रहे सवालों को पुष्ट कर दिया है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने, जिसे अदालत भी गुंडों और अपराधियों का संगठित गिरोह कह चुकी है, खुद की जन विरोधी छवि को ही पुष्ट किया है। सरकार और सभ्य समाज के सामने गंभीर चुनौती है कि वह ऐसे तंत्र को सभ्य बनाए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (मंगलवार, 17 नवंबर, 2009)