DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सूरजकुंड मेले का क्षेत्र बढ़ेगा

सूरजकुंड हस्तशिल्प मेला इस बार पहले से बड़ा होगा। नई स्टॉल बनाई जाएंगी। इसके लिए एक एकड़ अतिरिक्त जगह को साफ किया जा रहा है। पार्किंग की समस्या को दूर करने के लिए ढाई एकड़ अतिरिक्त जगह को चिन्हित किया गया है।

पिछले साल इस मेले में ज्यादा शिल्पियों को जगह देने के उद्देश्य से पांच एकड़ जमीन में नई हट्स बनाई गई थी। इस बार सूरजकुंड मेला प्राधिकरण ने कई देशों को निमंत्रण भेजा है। भारत के हस्तशिल्पियों की भी संख्या में इजाफा हुआ है। इसे देखते हुए मेले के गुजरात और सिक्किम गेट के पास एक एकड़ जमीन में नई हट्स बनाने का निर्णय लिया गया है।

एक एकड़ भूमि में 35 हट्स बनाई जाएंगी। अब तक मेला परिसर में 350 हट्स हैं। हर साल हट्स की कमी के चलते अवार्डी कारीगरों को निराश होकर लौटना पड़ता है। कई शिल्पकार बिना हट के खुले में ही अपनी कला का प्रदर्शन करने को मजबूर होते हैं। उम्मीद है नई हट्स के बनने से इस बार ज्यादा शिल्पकारों को अपनी कला को दिखाने का मौका मिलेगा।

मेले के दर्शक भी इस बार आसानी से वाहन पार्किंग में खड़े कर सकेंगे। दिल्ली की तरफ बने गेट के पास मेला अथॉरिटी ने ढाई एकड़ जमीन को पार्किग के लिए तैयार करने का निर्णय लिया है। मेला अथॉरिटी की मानें तो इसमें 400 से 500 वाहनों को पार्क किया जा सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सूरजकुंड मेले का क्षेत्र बढ़ेगा