DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

माध्यमिक स्कूल के विशेष बच्चों को तोहफा

राज्य के माध्यमिक विद्यालयों में पढऩे वाले विशेष बच्चों के लिए खुशखबरी है। उन्हें अब विद्यालय का न कोई शिक्षक हिकारत की नजर से देखेगा और ना ही स्कूल में उन्हें किसी चीज की दिक्कत होने दी जाएगी।

किताब से लेकर अपंगता के उपकरण तक सब कुछ उन्हें राज्य सरकार मुफ्त मुहैया कराएगी। मध्यमिक विद्यालय के विशेष बच्चों के लिए 11 करोड़ की योजना लेकर राज्य के मानव संसाधन विकास विभाग के प्रधान सचिव अंजनी कुमार सिंह दिल्ली गए थे। जहां केन्द्र सरकार ने इस योजना को हरी झंडी दे दी। यह योजना इसी साल (वर्ष 2009-10) से माध्यमिक विद्यालयों में लागू हो जाएगी।

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास विभाग के सचिव की अध्यक्षता वाली कमेटी के साथ हुई बैठक की जानकारी देते हुए अंजनी कुमार सिंह ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि इस योजना में तीन चौथाई राशि केन्द्र जबकि एक चौथाई राज्य सरकार देगी। उन्होंने कहा कि अब माध्यमिक विद्यालय के सभी विशेष बच्चों को एड एवं अपलायंसेस दिए जाएंगे। व्हील साइकिल, हियरिंग एड से लेकर जिसको जिस उपकरण की जरूरत होगी राज्य सरकार देगी। हाई स्कूल के सभी विशेष बच्चों को मुफ्त किताबें दी जाएंगी। विशेष छात्राओं को 200 रुपए मासिक की सहायता अलग से दी जाएगी। राज्य के सभी 3000 स्कूलों में इन बच्चों के लिए रैम्प बनाया जाएगा। टीचर और हेडमास्टर ऐसे बच्चों के साथ सही तरीके से पेश आएं इसको लेकर उनके बीच ओरिएंटेशन प्रोग्राम चलाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:माध्यमिक स्कूल के विशेष बच्चों को तोहफा