DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पहाड़ी शैली में बनेंगे सरकारी भवन

मुख्यमंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि राज्य के सरकारी भवनों का निर्माण पहाड़ी शैली के अनुरूप किया जाएगा, जिससे इनमें उत्तराखंड की झलक दिखाई दे। मुख्यमंत्री ने यह बात 10 करोड़ 64 लाख रुपये की लागत से निर्मित राज्य अतिथि गृह बीजापुर के लोकार्पण पर कही। उन्होंने कहा कि मसूरी में सर्किट हाउस के निर्माण के लिए भूमि चयनित की जा रही है।

21 करोड़ रुपये की लागत से योजना भवन, 15 करोड़ 81 लाख रुपये की लागत से मुख्यमंत्री आवास और 8 करोड़ रुपये की लागत से राजभवन सचिवालय निर्माण का कार्य शीघ्र ही पूरा हो जायेगा। एशिया के विशिष्ट अत्याधुनिक नेत्र चिकित्सालय का देहरादून में 12 करोड़ रुपये की लागत से तथा दिल्ली में उत्तराखण्ड निवास का 18 करोड़ रुपये की लागत से निर्माण कार्य कराया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने बीजापुर राज्य अतिथि गृह को पर्वतीय वास्तुकला के अनुरूप समय से बनाने पर विभाग एवं वास्तुकारों तथा निर्माणकर्ता को बधाई भी दी। मसूरी क्षेत्र के विधायक जोत सिंह गुनसोला ने कहा कि पर्वतीय प्रदेश की भवन शैली के अनुरूप यहां सभी सरकारी भवनों का निर्माण किया जाना चाहिए। इस अवसर पर सचिव लोनिवि एवं राज्य सम्पत्ति उत्पल कुमार सिंह ने बताया कि इस अति विशिष्ट राज्य अतिथि गृह में एक अति विशिष्ट कक्ष, दो विशिष्ट व्यक्तियों के कक्ष और 32 सामान्य कक्षों के साथ ही पुस्तकालय, व्यायामशाला एवं कांफ्रेंस हॉल की भी व्यवस्था है। 
कार्यक्रम में सिंचाई मंत्री मातबर सिंह कण्डारी, कृषि मंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, संसदीय सचिव श्रीमती आशा नौटियाल, विधायक राजकुमार, गणेश जोशी, मेयर नगर निगम विनोद चमोली, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री सुभाष कुमार, सचिव विधान सभा महेश चन्द, सचिव सामान्य प्रशासन राजीव चन्द्रा, राज्य सम्पत्ति अधिकारी अरविन्द सिंह ह्यांकी आदि उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पहाड़ी शैली में बनेंगे सरकारी भवन