DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कंपन, गति व भारी वाहन से क्षतिग्रस्त हुआ गांधी-सेतु

महात्मा गांधी-सेतु के क्षतिग्रस्त होने का सबसे बड़ा कारण गाड़ियों की अंध दौड़ व उनकी गति के साथ-साथ पुल पर होने वाला जबरदस्त कंपन है। इसके अलावा भारी गाड़ियों का बेतरतीब आवागमन भी पुल को जर्जर बनाने का प्रमुख कारण है।

ब्रिज इंजीनियरिंग के जाने-माने विशेषज्ञ डॉ. पी.लक्ष्मी ने बताया कि पुल के क्षतिग्रस्त होने का बड़ा कारण यही होता है। गांधी सेतु पर कोई नियंत्रण किसी स्तर पर नहीं रखा गया। गाड़ियों का भार कितना है, इसकी कभी जांच नहीं हुई। जब मर्जी वाहन में भारी बोझ डालकर पुल से होकर उन्हें गुजार दिया गया। प्रतिदिन असंख्य गाड़ियां इसी तरह गुजरती है। यही नहीं गाड़ियों की गति पर नियंत्रण की भी कोई व्यवस्था नहीं है। अगर अब भी इन पर ध्यान दिया गया तो पुल की उम्र लंबी हो सकती है। मरम्मत के बाद इस पर पूरा ध्यान दिया जाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कंपन, गति व भारी वाहन से क्षतिग्रस्त हुआ गांधी-सेतु