DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दबाव बनाने के लिए 500 रन की जरूरतः द्रविड

दबाव बनाने के लिए 500 रन की जरूरतः द्रविड

श्रीमान भरोसेमंद राहुल द्रविड ने कहा है कि श्रीलंकाई टीम को दबाव में लाने के लिए भारत को कम से कम 500 रन बनाने होंगे।

द्रविड ने श्रीलंका के खिलाफ सोमवार को अहमदाबाद के मोटेरा मैदान में खेले जा रहे पहले टेस्ट के पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद संवाददाताओं से कहा कि भारत को खेल के दूसरे दिन अपने स्कोर को 500 तक पहुंचाना होगा। पहले दिन का खेल समाप्त होने के समय भारत ने अपनी पहली पारी में छह विकेट पर 385 रन बना लिए हैं।

द्रविड ने कहा, हमने पहले ही दिन 385 रन बना लिए हैं। इससे पता चलता है कि खेल कितना तेज हो रहा है। विकेट के अगले दो दिन तक बेहतर रहने की उम्मीद है ऐसे में हमें विपक्षी टीम को दबाव में लाने के लिए कम से कम पांच सौ रन बनाने होंगे।

उन्होंने कहा, हमे मंगलवार सुबह के सत्र में संभलकर बल्लेबाजी करनी होगी। अपनी 177 रन की नाबाद पारी के बारे में पूछने पर द्रविड ने कहा, मैंने ऐसा कुछ सोचा नहीं था। बस विकेट पर टिककर खेला और रन बनते चले गए। मेरी टाइमिंग सही हो रही थी और मैं गैप ढूंढ़ने में भी कामयाब हो पा रहा था। इसलिए मैं अपनी लय में खेलता गया तथा दनादन शॉट खेलता रहा।

32 रन पर चार विकेट गिरने के बाद उनके साथ खेलने आए युवराज सिंह को दिए गए सलाह के बारे में पूछने पर द्रविड ने कहा, मैंने युवराज से कहा कि हमें टिककर खेलना होगा और एक बडी़ साझेदारी करनी होगी।

द्रविड ने कहा कि मैंने युवराज से कहा कि हमें लंच तक बिना विकेट गंवाए खेलने की जरूरत है। दूसरे सत्र में विकेट खेलने के लिए आसान हो जाएगी और यही हुआ।

उन्होंने कहा कि टीम का यहां टॉस जीतना अच्छा रहा। हम जानते थे कि पहले एक घंटे तक विकेट में नमी रहेगी लेकिन उसके बाद यह बल्लेबाजी के माकूल हो जाएगी। हमने सुबह के सत्र में साझेदारी बनाई, दूसरे सत्र में इसे मजबूत किया और आखिरी सत्र में जमकर रन बटोरे।

अपनी इस पारी को सर्वश्रेष्ठ पारी बताने से परहेज करते हुए द्रविड ने कहा कि इसे सर्वश्रेष्ठ पारी बताने से पहले मुझे मैच के परिणाम का इंतजार करना होगा। अभी यह कहना जल्दबाजी होगी। देखते हैं कि मैच में आगे क्या होता है। यह एक अच्छी पारी थी क्योंकि इसकी बदौलत हम अच्छे स्कोर तक पहुंच सके।

टेस्ट इतिहास में 11000 रन बनाने वाले दुनिया के पांचवें बल्लेबाज बनने की उपलब्धि हासिल करने के बारे में द्रविड ने कहा कि इससे मुझे खुशी हुई है क्योंकि इससे आप ऐसे खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो जाते हैं जिनके आप प्रशंसक रहे हैं। लेकिन यह महज एक आंकडा ही है।

उन्होंने कहा कि जब आप इतने लंबे समय तक खेलते हैं और लगातार रन बनाते हैं तो आप कोई न कोई उपलब्धि हासिल करते रहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दबाव बनाने के लिए 500 रन की जरूरतः द्रविड