DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब भी हो रहा पॉलीथिन का इस्तेमाल

पॉलीथीन पर चालान की व्यवस्था न होने से शहर के मॉल्स व बाजारों में इसका धड़ल्ले से इस्तेमाल हो रहा है। सहूलित के नाम पर दुकानदार व कारोबारी पॉलीथीन में ग्राहक को सामान भरकर देने से गुरेज नहीं करते। प्रतिबंधित रंगीन पालीथीन व मानकों से परे बनी पालीथीन को बाजार में लोगों के हाथों में आम देखा जा सकता है। हालांकि  पहले के मुकाबले लोग जागरुक हैं। पॉलीथीन का प्रयोग कम कर रहे हैं। इसके उपयोग को रोकने में प्रशासन ठोस कदम नहीं उठा रहा।

वर्ष 2006 में पॉलीथीन बैग पर प्रतिबंध लगाया गया था। प्रशासन की लापरवाही से इसके नियमों से लोग जागरुक नहीं। इस वजह से इसके प्रयोग पर पूरी तरह पाबंदी नहीं लग पाई है। दरअसल, वर्ष 2006 के नियम के तहत पॉलीथीन के इस्तेमाल पर साइज और उसकी मोटाई के आधार पर चालान किया जा सकता है। इसके अलावा नेशनल पार्क, वाइल्ड लाइफ सेंचुरी, ग्राम पंचायत मोरनी व धार्मिक स्थल कुरुक्षेत्र में पॉलीथीन कैरीबैग का इस्तेमाल प्रतिबंधित है। बाकी शहरों में इसके साइज व मोटाई के हिसाब से प्रतिबंध लगा हुआ है। नियमों का पालना नहीं करने पर चालान हो सकता है।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एक्सईएन उमाशकंर शर्मा ने कहा कि पॉलीथीन कैरीबैग के निधार्रित साइज और मोटाई का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की जाती है। इसको लेकर कई जगह छापे भी मारे गए। कोई दोषी नहीं पाया गया। कोई जुर्माने के दायरे में नहीं आया। क्राउन प्लाजा मॉल की मैनेजर निशा विग का कहना है कि पॉलीथीन का इस्तेमाल सभी जगह हो रहा है। उनके यहां दुकानदार मानकों के आधार पर पॉलीथीन का इस्तेमाल कर रहे हैं। एसआरएस सेक्टर 12 मार्केटिंग मैनेजर सुशील जैन कहते हैं कि पॉलीथीन को लेकर कई साल से जागरुक किया जा रहा है। यह जरुरत बन चुकी है। उनके यहां भी पॉलीबैग के इस्तेमाल हो रहे हैं। 

क्राउन इंटीरियज मैनेजर जीएस त्यागी का मानना है कि मॉल में 15 फीसदी ही पॉलीबैग इस्तेमाल किए जाते हैं। वो भी मानकों के अनुसार। नगर निगम के ज्वाइंट कमिश्नर एमके सोलंकी बताते हैं कि मानकों के परे पालीथीन का इस्तेमाल करने वाले पर जुर्माना करने के आदेश अभी नहीं आए हैं। सरकार की तरफ से हरी झंडी मिलने पर मार्केट में छापेमारी शुरू की जाएगी। कार्रवाई से पहले प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मानकों की जानकारी हासिल की जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब भी हो रहा पॉलीथिन का इस्तेमाल