DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कवि सम्मेलन में बही सब रसों की धारा

'राष्ट्रीय कवि संगम' के तत्वाधान में होने वाले 'दस्तक नई पीढ़ी की' के नाम के कवि सम्मेलन का तीसरा विशाल आयोजन रविवार को सम्पन्न हुआ। कविता पाठ के अतिरिक्त 'जगदीश मित्तल' सम्मान और 'दस्तक नई पीढ़ी की' के दूसरे कवि सम्मेलन की पुस्तक का लोकार्पण किया गया।

दिल्ली के पीतम पुरा स्थित टैक्निया हॉल में 'राष्ट्रीय कवि संगम' के तत्वाधान में प्रति वर्ष होने वाले कवि सम्मेलन 'दस्तक नई पीढ़ी की' का विशाल आयोजन रविवार को सम्पन्न हो गया। इस कार्यक्रम का आयोजन नए कवियों को मंच से जोड़ने का महान कार्य करने वाले माननीय 'जगदीश मित्तल' के जन्म दिवस पर किया गया। यह कार्यक्रम हर वर्ष 15 नवम्बर को आयोजित किया जाता है। हर साल की तरह इस बार भी पूरे देश से पन्द्रह नए कवियों को मंच पर उतारने की 'राष्ट्रीय कवि संगम' की यह तीसरी दस्तक थी।

इससे पहले पिछले दो कार्यक्रमों में इसी प्रकार पन्द्रह-पन्द्रह नए कवि इस मंच के माध्यम से आगे बढ़ाए गए हैं। इस बार के इन पन्द्रह चुनिन्दा कवियों में विनय शुक्ल 'विनम्र', चरण जीत 'चरण', शैलेन्द्र शर्मा 'शैलेष', महेन्द्र प्रजापति, नीरज मलिक, रमन जैन, राजरानी भल्ला, जतिन्दर 'परवाज़', सत्येन्द्र त्यागी, अनिल गोयल, शैलजा सिंह, मनोज वाजपेई और विनीत पाण्डेय आदि ने कविता पाठ किया। इन पन्द्रह नए लेकिन, श्रेष्ठ कवियों ने बारी-बारी अपनी-अपनी रचनाएं प्रस्तुत कीं। कवियों ने अपनी मंत्र मुग्ध करने देने वाली कविताओं से श्रोताओं पर ऐसा सम्मोहन किया कि यह कार्यक्रम तय समय से दो घंटे अधिक चला। इस दौरान कवियों को जमकर दाद मिली।

कार्यक्रम का शुभारम्भ मॉं सरस्वती की प्रतिमा के चरणों में दीप प्रज्जवलन करके किया गया। दीप प्रज्जवलन का कार्य जगदीश मित्तल, नरेश शान्डिल्य, डॉ. नन्द किशोर, श्याम जाजू, यूसुफ भरद्वाज और राजेश जैन 'चेतन' के कर-कमलों से सम्पन्न हुआ। मंच का संचालन मजे हुए कवि विनय शुक्ल 'विनम्र' ने बड़े ही आकर्षक तरीके से (मूलतः अपनी ही रचनाओं के) हर रंग से किया। 

इस अवसर पर 'जगदीश मित्तल पुरस्कार' से (श्रेष्ठ चुने गए) एक कवि को सम्मानित किया गया और इस श्रंखला का पहला पुरस्कार चिराग जैन के हिस्से में आया। मंच पर अध्यक्ष रूप में आकाशवाणी के निदेशक लक्ष्मी शंकर वाजपेई और मुख्य अतिथि के रूप में बलवीर सिंह 'करुण' उपस्थित थे।    

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कवि सम्मेलन में बही सब रसों की धारा