DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सलियों-माओवादियों से मिले चीन निर्मित हथियार

नक्सलियों-माओवादियों से मिले चीन निर्मित हथियार

सुरक्षाबलों ने देश में सक्रिय नक्सलियों, माओवादियों और उग्रवादी संगठनों से चीन निर्मित 200 हथियार जब्त किए हैं और सरकार के इस नजरिये को मजबूत किया है कि वाम विचारधारा के कट्टरपंथियों को उस देश से हथियार मिल रहे हैं।

केन्द्रीय सुरक्षा बल के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, पिछले साल जब्त 164 और 2007 में बरामद 182 हथियारों में से कम से कम 200 चीन निर्मित पिस्तौलें, रिवाल्वर और माउजर थे। इसके अलावा पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और इस्राइल में बने हथियारों को भी जब्त किया गया है।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, सुरक्षा बलों ने पिछले साल चीन निर्मित 87 रिवाल्वर जम्मू कश्मीर से बरामद किए थे। पूर्वोत्तर में सुरक्षाबलों ने 2008 में 113 हथियार जब्त किए थे जबकि 2007 में ऐसे 118 हथियार बरामद किए गए थे। इसमें चीनी पिस्तौलें, बेल्यियम में बनी गैस गन और अमेरिका निर्मित कारबाइन शामिल हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि नक्सली विदेश, खासतौर पर चीन और अमेरिका में बने हथियारों का आमतौर पर इस्तेमाल करते हैं। बिहार, झारखंड और आंध्र प्रदेश में सक्रिय माओवादी संगठन विदेश, खासतौर पर चीन में बने छोटे हथियारों का अधिकतर इस्तेमाल करते हैं। इसके विपरीत पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश जैसे राज्यों में माओवादी आमतौर पर स्थानीय हथियारों का इस्तेमाल करते हैं।

रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि सुरक्षा बलों ने रूस निर्मित एके सीरीज की बंदूकें माओवादियों के बीच सर्वाधिक लोकप्रिय हैं। 92 एके 47, 18 एके 56, पाकिस्तान निर्मित पाइका गन और इस्राइल निर्मित स्निपर गन पिछले साल जब्त की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सलियों-माओवादियों से मिले चीन निर्मित हथियार