अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शुरू हुआ इंट्री फी का खेल

परिवहन विभाग में फिर शुरू हो गयी है निजी शुल्क की व्यवस्था। राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद परिवहन विभाग में व्यापक हेरफेर के बाद विभाग में नये आये पुलिस अफसरों में कुछ कर दिखाने का जुनून था। होली के पहले यह जुनून खत्म हो गया। रांची, जमशेदपुर और धनबाद में फिर इंट्री फी चालू हो गयी है। मोबाइल डीएसपी, इंस्पेक्टर और दारोगा के बीच यह इंट्री फी बंटती है।ड्ढr अभी सिर्फ ओवरलोडिंग की छूट दी गयी है। वाहन के कागजात दुरुस्त होने चाहिए। रांची में प्रति ट्रक 3600 रुपये और धनबाद जमशेदपुर में 4000 रुपये प्रति वाहन प्रतिमाह के हिसाब से इंट्री फी वसूली जा रही है। यह इंट्री छूट रात में 10 बजे से सुबह 4 बजे तक रहती है। रांची में लगभग 500 और जमशेदपुर में 1000 और धनबाद- बोकारो में 2000 से अधिक वाहन रात में पार कराये जाते है। रांची में मोबाइल पदाधिकारियों का निजी इंट्री शुल्क 18 लाख रुपये प्रतिमाह पड़ा। जमशेदपुर और धनबाद की कमायी का अंदाजा लगाया जा सकता है। सरकार ने यह अधिकार एमवीआइ और डीटीओ को भी दिया है, लेकिन अभी ये पदाधिकारी इंट्री से अलग बताये जाते हैं।ड्ढr कड़ाई होगी : सचिवड्ढr परिवहन सचिव सुखदेव सिंह ने निजी इंट्री शुल्क की वसूली शुरू होने के मामले में कहा है कि अभी तक यह शुरू नहीं हुआ था। कड़ाई बरती जा रही है। फिर भी यह चालू हुआ है, तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जो भी पुलिस विभाग से आये हैं, उन्हें दो माह के लिए प्रतिनियुक्त किया गया है। उनकी सेवा वापस की जा सकती

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: शुरू हुआ इंट्री फी का खेल