DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो टूक (सोमवार, 16 नवंबर 2009)

दिल्ली में 25 दिसम्बर 2002 को मेट्रो की पहली सेवा शुरू हुई थी। तब की बात और थी। मेट्रो नई थी। लोगों में उत्सुकता थी। देखना चाहते थे, मेट्रो कैसी है। बैठने का एहसास कैसा है। सो 1.14 लाख से अधिक लोग उमड़ पड़े थे। 13 नवम्बर 2009 की बात और है। नोएडा के लोगों ने इन सात वर्षो में कभी-न-कभी इससे सफर किया ही होगा। 13 को नोएडा लाइन पर 1.10 लाख और 14 को 1.15 लाख लोगों ने यात्रा की। यह संख्या ही बताती है कि नोएडा रूट पर मेट्रो की कितनी जरूरत थी। हां, कसक है तो गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुड़गांव के लोगों को। उन्हें इंतजार है इसी तरह सपने के साकार होने का।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दो टूक (सोमवार, 16 नवंबर 2009)