DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एक फूल, तीन माली

चिकित्सा विज्ञानियों ने एक अजूबा कर दिखाया। दो महिलाओं के ओवा यानी प्रजनन कोशिकाएं मिला कर एक कोशिका यानी सेल बनाया और फिर उसका प्रयोगशाला में शुक्राणु यानी स्पर्म से मेल भी करवा दिया। यानी एक ऐसा भ्रूण बनाने में सफलता पाई, जिसका पिता तो एक है, लेकिन मांएं दो हैं। उम्र के साथ-साथ महिलाओं के ओवा स्वस्थ नहीं रह पाते, इसलिए उन्हें गर्भधारण में दिक्कत होती है। वैज्ञानिकों ने युवा महिलाओं के स्वस्थ ओवा के न्यूक्लियस को बूढ़ी महिलाओं के ओवा में मिला दिया और उसका स्पर्म से मेल करवा दिया। अगर ऐसा कहा जाए कि इससे बूढ़ी महिलाओं के मां बनने का रास्ता खोल दिया गया है, तो यह थोड़ी जल्दबाजी होगी। इसके साथ कई वैज्ञानिक और नैतिक सवाल भी जुड़े हैं। क्या होने वाला बच्चा स्वस्थ होगा? उसमें कोई जेनेटिक गड़बड़ी तो नहीं होगी? क्या यह डिजाइनर या कृत्रिम रूप से गढ़ी हुई संतान पैदा करने जैसा नहीं होगा? ये सारे सवाल अभी आएंगे, और इसे अमल में लाने के पहले ही ये सवाल हल किए जाने जरूरी होंगे। जबसे पिछले वर्षो में जेनेटिक्स में शोध और ज्ञान का विस्फोट हुआ है, उससे हमारी जितनी समस्याएं सुलझी हैं उनसे ज्यादा तमाम किस्म के नैतिक, मानवीय और वैज्ञानिक सवाल खड़े हो गए हैं। एक तरफ ऐसे वैज्ञानिक हैं, जो बिना किसी की फिक्र किए नए-नए प्रयोग किए जा रहे हैं, दूसरी तरफ सवाल खड़े करने वाले वैज्ञानिक हैं, जो पूछ रहे हैं कि कहीं हम प्रकृति के साथ खतरनाक खिलवाड़ तो नहीं कर रहे हैं। दरअसल पिछले वर्षों में तकनीक और ज्ञान के बढ़ने के साथ इतनी नई-नई संभावनाएं खड़ी हो गई हैं कि वैज्ञानिकों को उन्होंने अचंभित कर दिया है।
 
ऐसी ही स्थिति लगभग 100-150 साल पहले भौतिक विज्ञान में थी, लेकिन नए ज्ञान के साथ नई समझ भी आई। तब भी यह लग रहा था कि मनुष्य प्रकृति पर विजय पा लेगा, लेकिन अखिरकार मनुष्य ने प्रकृति के साथ समन्वय ही सीखा। हमें भरोसा होना चाहिए कि मनुष्यता हमेशा विवेक और दुस्साहस के बीच मध्यमार्ग ढूंढ़ लेती है। न दुनिया में कोई जेनेटिक क्रांति होनी है, न ही वैज्ञानिक कोई राक्षस पैदा कर देंगे जैसे विज्ञानकथाओं में होता है। मनुष्य की जानने की उत्सुकता से अक्सर हाथ झुलसे भी हैं, लेकिन ज्यादातर मनुष्यता समृद्ध ही हुई है। जेनेटिक्स का ज्ञान आखिरकार हमारी दुनिया की समझ बेहतर करेगा और कई समस्याओं के हल भी देगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एक फूल, तीन माली