DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेडली की गतिविधियों को खगालने में जुटी टीमें

हेडली की गतिविधियों को खगालने में जुटी टीमें

लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी डेविड कोलमैन हेडली की गतिविधियों की पड़ताल कर रही पुलिस के रविवार को दिल्ली के पहाड़गंज इलाके में स्थित कई साइबर कैफे और होटलों की तलाशी लिए जाने के बीच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने हेडली से जुड़े सुराग का पता लगाने के लिए मुम्बई तथा कई अन्य राज्यों में टीमें गठित की हैं।

एनआईए के अधिकारी मुंबई के पश्चिमी उपनगर खार में एक सम्पत्ति एजेंट की तलाश कर रहे हैं जिसने सम्भवत: हेडली को दक्षिणी मुम्बई के ब्रीच कैंडी में मकान दिलाने में मदद की थी।

सूत्रों के मुताबिक माना जा रहा है कि एनआईए के अधिकारियों ने फिल्म निर्देशक महेश भटट के बेटे राहुल भट्ट तथा उस जिम के मालिक समेत तीन लोगों से पूछताछ की जहां हेडली राहुल से मिला था। हेडली द्वारा कथित रूप से इस्तेमाल किए गए कुछ कम्प्यूटर और लैपटॉप को भी जब्त करके परीक्षण के लिए भेजा गया है।

एक अन्य सम्बन्धित घटनाक्रम में केन्द्रीय सुरक्षा एजेंसियों के अधिकारियों ने पाया है कि पाकिस्तानी मूल का कनाडाई नागरिक राणा केरल के कोच्चि गया है। केन्द्रीय गृह सचिव जीके पिल्लई ने कहा कि हेडली के मामले में अब तक किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी गई है। उन्होंने दिल्ली में कहा कि राणा पिछले साल मुम्बई हमलों से 10 दिन पहले कोच्चि गया था।

केरल के पुलिस प्रमुख जैकब पुनूसे ने कहा कि तहव्वुर राणा नाम का एक आदमी 16 नवम्बर को कोच्चि के एक होटल में रूका था। हेडली कथित रूप से इस साल मार्च में तीन दिन के लिए मध्य दिल्ली के पहाड़गंज इलाके में ठहरा था। बहरहाल, वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने पहाड़गंज में ली गई तलाशी को भारत में हेडली की गतिविधियों से सम्बन्धित होने की पुष्टि नहीं करते हुए इसे एक नियमित कवायद का हिस्सा बताया। पुलिस अधिकारियों ने विभिन्न होटलों, साइबर कैफे और टेलीफोन बूथों की तलाशी ली। माना जा रहा है कि उन्होंने इन प्रतिष्ठानों पर एक मार्च से 15 मार्च के बीच आए उपभोक्ताओं के बारे में विस्तृत जानकारी एकत्र की है।

बहरहाल, होटल स्टाफ के कुछ लोगों, साइबर कैफे के मालिका और टेलीफोन बूथ ऑपरेटरों ने बताया कि पुलिस ने उनसे मार्च के पहले पखवाड़े में आए उपभोक्ताओं के बारे में विस्तार से पूछा। अमेरिकी एजेंसी एफबीआई द्वारा पिछले महीने शिकागो में गिरफ्तार किया गया हेडली इस साल सात मार्च से तीन दिन तक पहाड़गंज इलाके के दो होटलों में रूका था।

पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के एक दल ने दिल्ली के पहाड़गंज स्थित होटल डे हॉलीडे इन तथा होटल आनन्द का तीन दिन पहले दौरा करके वहां के कर्मचारियों से बात की थी। वरिष्ठ अधिकारियों ने तब कहा था कि वे इस बात की जांच करेंगे कि हेडली ने उस इलाके के साइबर कैफे का इस्तेमाल किया था या नहीं।

मुम्बई सहित देश में विभिन्न स्थानों पर हुए आतंकवादी हमलों में हेडली और उसके कनाडाई सहयोगी तहव्वुर हुसैन राणा की भूमिका के सिलसिले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने इन दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

सूत्रों ने बताया कि केरल के होटल का रिकॉर्ड दिखाता है कि राणा 16 नवम्बर को एक पंचसितारा होटल में एका था और वह अगले ही दिन मुम्बई के लिए रवाना हो गया था। अधिकारी इस बात की जांच कर रहे हैं कि राणा की इस यात्रा का मकसद युवाओं को आतंकवादी के रूप में भर्ती करना तो नहीं था।

केन्द्रीय गृह सचिव ने नई दिल्ली में कहा कि पहाड़गंज इलाके में होटलों पर छापा मारने वाले अधिकारियों को मामले की जांच पूरी करने के लिए चार से छह हफ्तों का समय लगेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेडली की गतिविधियों को खगालने में जुटी टीमें