DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैक्स चलाएंगे जन वितरण प्रणाली की दुकानें

हम तो फक्कड़ हैं। जनता का काम करते हैं, बाकी किसी की परवाह नहीं करते। नरेन्द्र बाबू ने प्रस्ताव दिया और गिरिराज सिंह ने हाथों-हाथ लूट लिया। तो अब देर किस बात की चलिए प्रस्ताव आगे बढ़ाईए और जल्द इस काम को पूरा कीजिए। चुनावी वर्ष है, जिसको सिर्फ बोलना है वह तो बोलता ही रहेगा। पैक्सों के माध्यम से जन वितरण प्रणाली की दुकानें चलावाने के प्रस्ताव को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को कुछ इसी अदाज में ओके कर दिया। बस, अब खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग मुख्यमंत्री के इस फैसले को संचिकाओं में उतारेगा और फिर चल पड़ेंगी पैक्सों में जविप्र की दुकानें।

श्री कृष्ण मेमोरियल हॉल में सहकारिता सप्ताह के अवसर पर आयोजित समारोह में मुख्यमंत्री कुछ अलग ही अंदाज में दिख रहे थे। उन्होंने कहा कि जाति को भूल जाइए और बन जाइए बिहारी। दूसरे राज्यों में बिहारियों पर हमला करने वाले जाति पूछकर नहीं करते, वे सबको बिहारी मानकर ऐसा करते हैं। जाति की दीवार मे कैद रहेंगे तो बिहार पिछड़ जाएगा। ऐसे ही हमें रोकने की कोशिश हो रही है। आईआईटी में हमारे बच्चे दूसरों को पछाड़ने लगे तो 80 प्रतिशत अंक लाने की शर्त रख दी गई। हमने डटकर विरोध किया।

आम तौर गंभीर दिखने वाले कुमार नव निर्वाचित पैक्स अध्यक्षों को संबोधित करते हुए अपनी खुशी छुपा नहीं पा रहे थे। उन्होंने साफ कह दिया कि बिहार ने एक और नई लकीर खींच दी, जिस पर चलने की कोशिश कर रहा है देश। आप हाथ उठाकर अध्यक्ष नहीं चुने गए हैं। पहली बार निकायों के चुनाव के लिए प्राधिकार का गठन किया गया। विधानसभा की तर्ज पर हुए चुनाव में जीत कर आए हैं। ऑडिट और चुनाव को छोड़ दें, तो सरकार आपके काम में कोई हस्तक्षेप नहीं करेगी। सरकारी राशि को लूट से बचाने के लिए संस्थाओं को काम देना होगा।

उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि गांवों के विकास में पैक्स और पंचायत प्रतिनिधियों का बहुत महत्व है। उन्होंने पैक्स अध्यक्षों का आह्वान किया कि वे किसान-हित की योजनाओं पर नजर रखें। केसीसी लेने वालों का हर हाल में फसल बीमा हो, इसके लिए बैंकों पर दबाव बनाएं और 9 दिसंबर को शिविर में खुद उपस्थित होकर किसानों को केसीसी दिलाएं। लैन्ड पजेसन सर्टिफिकेट के लिए किसानों की मदद में आगे आने को भी कहा। अध्यक्षता करते हुए सहकारिता मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि जल्द ही पैक्स प्रतिनिधियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। इसके लिए जिलास्तर पर कार्याशाला आयोजित होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पैक्स चलाएंगे जन वितरण प्रणाली की दुकानें