DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कल्याण के विचार उत्तम : कलराज

कल्याण सिंह ने सपा से नाता तोड़ भले ही भगवा पार्टी के लिए फिर कसीदे पढ़ने शुरू कर दिए हों लेकिन भारतीय जनता पार्टी दुविधा की स्थिति है। पार्टी के वरिष्ठ नेता कलराज मिश्र का कहना है कि कल्याण सिंह द्वारा भाजपा और हिन्दुत्व के बारे में विचार अच्छे और स्वागत योग्य हैं बशर्ते कि इनमें स्थायित्व बना रहे। क्योंकि श्री सिंह ने यह बातें तब कही हैं जबकि मुलायम सिंह यादव ने यह साफ कर दिया कि वे कल्याण सिंह को सपा में नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि कल्याण सिंह को भाजपा में वापस लेने या न लेने का निर्णय पार्टी हाईकमान का है और अभी तक इस सिलसिले में कोई बात नहीं हुई है।

दिल्ली से ‘हिन्दुस्तान’ से फोन पर बात करते हुए श्री मिश्र ने कहा कि यह अच्छी बात है कि कल्याण सिंह को  भाजपा छोड़ने का पश्चात्ताप है और वे भाजपा को मजबूत करने की मंशा और मन्दिर निर्माण की भी बात कर रहे हैं। वे योग्य नेता और धुन के पक्के हैं। लेकिन देखना होगा कि उनके विचार कितने स्थिर हैं।

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश सिंह ने कहा कि अगर कल्याण सिंह हिन्दुत्व के लिए काम करने को तैयार हैं और वे अपनी दृढ़ता दिखाते हैं तो यह स्वागत योग्य है लेकिन अभी इस मुद्दे पर कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। मुलायम सिंह यादव ने उनसे किनारा और कल्याण सिंह ने मुलायम से। आगे क्या होगा साफ नहीं।

पार्टी के एक अन्य प्रदेश अध्यक्ष केशरीनाथ त्रिपाठी का कहना है कि जिस आदमीं ने ऐन मौके पर पार्टी को धोखा दिया है, जबकि पार्टी की सरकार बनने की स्थिति थी, ऐसे व्यक्ति को भाजपा में वापस लेने की बात उचित नहीं है। कल्याण सिंह आज हिन्दुत्व को मजबूत करने की बात कर रहे हैं, कल लोकसभा चुनाव में तो उन्होंने इसे गर्त में ले जाने की बात की थी। वे अब न तो घर के रहेंगे और न घाट के।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कल्याण के विचार उत्तम : कलराज