DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों की आमदनी तीन साल में दोगुनी हो: सीएम

मुख्यमंत्री मायावती ने निर्देश दिए हैं कि किसानों को उनकी उपज का लाभकारी मूल्य दिलाने के हर संभव प्रयास किए जाएँ और कोशिशें ऐसी हों कि अगले तीन साल में उनकी आमदनी दोगुनी हो जाए। किसानों की खुशहाली से प्रदेश के विकास को गति मिलेगी।

कृषि विपणन और कृषि विदेश व्यापार विभाग की रविवार को समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में चावल और तिल का उत्पादन राज्य की जरूरत से ज्यादा हो रहा है। इसका लाभ उठाना चाहिए और ऐसी नीति बनानी चाहिए जिससे चावल और तिल का निर्यात बढ़ सके। इससे विदेशी मुद्रा बढ़ेगी साथ ही किसानों की आय भी।

बैठक में अफसरों ने बताया कि 232 नियमित और 27 साप्ताहिक केन्द्रों के माध्यम से किसानों की सभी उपज का थोक भाव एकत्र किया जा रहा है। अधिकतम थोक भाव जानने के लिए कृषि मंडियों में रोज इंटरेक्टिव वॉयस रिस्पांस सिस्टम का उपयोग किया जा रहा है। इससे किसान ताजा भाव जानने के बाद मनचाही मंडी में माल बेच रहे हैं। जल्द ही हर मंडी में यह व्यवस्था की जाएगी ताकि किसान अपनी उपज का अधिक से अधिक मूल्य पा सकें। बासमती चावल और तिल का  ब्रिटेन, सऊदी अरब, दुबई, न्यूजीलैंड, फ्राँस, नार्वे, थाईलैंड, आस्ट्रेलिया और कनाडा में निर्यात किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किसानों की आमदनी तीन साल में दोगुनी हो: सीएम