DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पिकप घोटाले की सीबीआई जाँच हो : कांग्रेस

प्रदेश कांग्रेस ने वर्ष 1989-1991 में पिकप में हुए घोटाले की स्वतंत्र एजेंसी से जाँच की माँग की है।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी व कांग्रेस सांसद पीएल पुनिया ने रविवार को यहाँ प्रेस कांफ्रेंस में यह माँग की। श्रीमती जोशी ने कहा कि श्रीमती जोशी ने कहा कि कांग्रेस इस मामले में कानूनी लड़ाई लड़ेगी। ईओडब्लू तो राज्य सरकार की अपनी जाँच एजेंसी है। सरकार इस मामले की सीबीआई या किसी अन्य स्वतंत्र एजेंसी से जाँच कराए।

प्रेस कांफ्रेंस में मौजूद कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि श्री पुनिया हमेशा योग्यतम अधिकारी रहे। वह दलितों के लोकप्रिय नेता के रूप में उभर रहे हैं तो मायावती सरकार उनके खिलाफ घटिया हथकंडे इस्तेमाल कर रही है। कांग्रेस श्री पुनिया के साथ है।

श्री पुनिया ने कहा कि वे पिकप के एमडी थे।  1989-91 में उद्योगपतियों का ऋण दिया गया। 1992 तक इन उद्योगपतियों ने ऋण व ब्याज की किस्तें अदा की। एमडी पद से हटने के बाद उन्होंने कर्ज नहीं चुकाया तो मैं कैसे जिम्मेदार हो गया। ओडब्लू ने दो बार मामले की जाँच की। दो बार एफआईआर हुई। कहीं मेरा नाम नहीं
आया। अब सरकार दोबारा मामले की फाइल खोलकर मुङो फँसाना चाहती है। कभी मुख्यमंत्री मायावती के करीब प्रमुख सचिव रहे श्री पुनिया ने कहा कि अपने को दलित की बेटी कहने वाली मायावती खुद तो दलित बस्तियों में जाती नहीं लेकिन दलितों का दुख दर्द बाँटने राहुल गांधी किसी गाँव में जाते हैं तो वह भड़क जाती हैं।

दलितों के खिसक रहे वोट बैंक से मुख्यमंत्री मायावती बौखला गई हैं। वह उन्हें झूठे मामले में फँसाना चाहती हैं। अगर मेरे खिलाफ कोई मामला है तो मुख्यमंत्री किसी स्वतंत्र एजेंसी से जाँच करा लें। उन्होंने कहा कि प्रदेश भर के दलितों ने उन्हें इज्जत दी। बाराबंकी की जनता ने उन्हें सांसद बनाया। फिरोजाबाद के लोकसभा उपचुनाव में मैं चुनाव प्रभारी था। वहाँ भी दलितों ने राजबब्बर को वोट दे कर जिताया। आईएएस अधिकारी के रूप में मैंने जहाँ भी काम किया उसकी जाँच कराई जा रही है। मुङो झूठे मामले में फँसाने की तैयारी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पिकप घोटाले की सीबीआई जाँच हो : कांग्रेस