DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए मीटर में नहीं होगी बिजली चोरी

अगर आपके आस पास बिजली की चोरी हो रही है और उसका लोड आपके मीटर पर पड़ रहा है तो अब ज्यादा परेशान होने की जरुरत नहीं है। क्योंकि आने वाले दिनों में बिजली चोरी पर अंकुश के लिए आपके घरों में एएमआर (आटोमेटिक मीटर रीडिंग) मीटर लगेंगे। इसके लिए इजिप्ट की एक पावर कंपनी अल्बासरा से एनपीसीएल की बातचीत चल रही है।

एनपीसीएल के मैनेजर आपरेशन राजीव गोयल के अनुसार जिन कल कारखानों में इस समय दस किलो वाट से ज्यादा बिजली खपत हो रही है, वहीं एएमआर मीटर लगे हैं। दस किलो वाट व उससे अधिक बिजली खपत करने वाली कंपनियों की लिस्ट मोजर बीयर,एलजी,होंडा सील,यमाहा सहित 14 बड़ी कंपनियां शामिल है। कास्ट इफेक्टिव होने के कारण दस किलो वाट से नीचे खपत होने वाले घरों में इसे लगाना मुश्किल जान पड़ रहा था।

लेकिन नवीनतम तकनीकी से कम खर्चे में एएमआर लगाना आसान हो गया है। सूत्रों की मानें तो अगर सब कुछ ठीकठाक रहा तो अगले माह एनपीसीएल की इजिप्ट की अल्बासरा कंपनी के साथ होने वाली बैठक में इस पर मुहर लग जाएगी। इससे बिजली चोरी और बकाए बिल की वसूली के लिए पावर कंपनी को अब ज्यादा मशक्कत नहीं करनी होगी।

ग्रेटर नोएडा के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र दोनों को मिलाकर इस समय एनपीसीएल के कुल 50 हजार उपभोक्ता है। बिजली चोरी का खामियाजा समय से बिल चुकाने वाले उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ रहा है। हाल ही में एक अभियान के तहत मारे गए छापे में कोंडली,बेगमपुर,मायचा व जुनैदपुर सहित कई गांवों में भारी बिल बकाया व बिजली चोरी का मामला सामने आया। बिजली बिल के बकाए का यह आलम है कि एक-एक गांव पर आठ से दस लाख का बकाया है। अगर ग्रेटर नोएडा क्षेत्र के बिसरख,दनकौर व जेवर तीनों ब्लॉक के गांवों पर गौर करें तो बकाया करोड़ों में बनता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नए मीटर में नहीं होगी बिजली चोरी