DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इराक में अमेरिकी जेल थी अलकायदा उग्रवादियों का गढ़

इराक में अमेरिकी जेल थी अलकायदा उग्रवादियों का गढ़

इराक में अमेरिका द्वारा संचालित जेल 'कैंप बुक्का' एक समय में अलकायदा उग्रवादियों के नेटवर्क का एक गढ़ था, जहां उग्रवादी प्रशिक्षित किए जाते थे।

पुलिस और पूर्व कैदियों का कहना है कि इस जेल में छह साल से भी अधिक समय की अवधि तक करीब 100,000 कैदियों को रखा गया। कुवैत की सीमा के उत्तरी हिस्से में स्थित इस जेल में 26 माह बिताने के बाद वर्ष 2008 में रिहा हुए अबू मोहम्मद ने कहा कि कैंप बुक्का हजारों सुन्नी चरमपंथियों अथवा तकफीरियों के लिए एक स्कूल था।

रमादी निवासी 32 वर्षीय अबू ने कहा कि अनपढ़ और सीधे-सादे लोग आसानी से चरमपंथियों के बहकावे में आ जाते हैं। बगदाद से करीब 100 किलोमीटर पश्चिम स्थित रमादी कभी उग्रवादियों का गढ़ था।
   
कैंप बुक्का 2003 में इराक पर अमेरिकी हमले के बाद खोला गया। यह इराक का सबसे बड़ा हिरासत केंद्र था, जिसमें 2007 में 22,000 कैदियों को रखा गया था।
   
कैंप इस साल 17 सितंबर को बंद कर दिया गया। तब उस समय वहां 8,000 कैदी थे, जिन्हें राजधानी के उत्तरी हिस्से में स्थित कैंप ताजी और बगदाद के कैंप क्रापर में स्थानांतरित कर दिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इराक में अमेरिकी जेल थी अलकायदा उग्रवादियों का गढ़