DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसान स्वयं बीज तैयार करें शुद्ध लाभ बढ़ेगा

हरियाणा में हिसार स्थित चौधरी चरण सिंह कृषि विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिकों ने फसलों से अधिक लाभ लेने के लिए किसानों से इनका बीज स्वयं तैयार करने का आह्वान किया है।

विश्वविद्यालय के अनुसंधान निदेशक डॉ. आर.पी. नरवाल ने बताया कि बाजार से बीज खरीदने से किसानों को डेढ़ से दो गुणा ज्यादा खर्च करना पड़ता है, जिससे उन्हें फसलों से मिलने वाला शुद्ध लाभ घट जाता है। उन्होंने कहा कि काश्त की लागत कम करना समय की मांग है, क्योंकि वैश्वीकरण के युग में सस्ती दर पर गुणवत्तापूर्ण कृषि उत्पादन करने वाले किसान ही लाभान्वित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि बीज उत्पादन ज्यादा मुश्किल काम नहीं है, बस इसमें केवल कुछ सावधानियां बरतने की जरूरत होती है।
किसान अपने क्षेत्र के लिए अनुमोदित फसलों की किस्मों का चुनाव करके उनका बीज विकास निगम (राष्ट्रीय बीज निगम) कृभको, इफको और अधिकृत बीज विक्रेता से खरीदें। उन्हें यह बीज आनुवांशिक और भौतिक रूप से शुद्ध और साफ मिलेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किसान स्वयं बीज तैयार करें शुद्ध लाभ बढ़ेगा