DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ये दोस्ती हम तोड़ेगेः मुलायम

ये दोस्ती हम तोड़ेगेः मुलायम

उत्तर प्रदेश के हाल के उपचुनाव में पार्टी को मिली करारी शिकस्त के बाद पूर्व भाजपा नेता कल्याण सिंह से मोहभंग हो जाने का संकेत देते हुए सपा मुखिया मुलायम सिंह यादव ने शनिवार को कहा कि कल्याण सिंह न तो कभी सपा मे शामिल किए गए थे और न ही कभी शामिल किए जाएंगे।

यादव ने शनिवार को संवाददाताओं के सवाल के जवाब में कहा कि मैं यह बात पहले भी कह चुका हूं और पुन: दोहराना चाहता हूं कि कल्याण सिंह न तो कभी सपा में थे और न भविष्य में उन्हें कभी भी सपा में शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह बात तो कल्याण सिंह ने भी कही है कि वे किसी पार्टी के सदस्य नहीं हैं।

कल्याण सिंह के साथ उनकी दोस्ती की याद दिलाने पर यादव ने कहा कि सपा तो कांग्रेस की भी दोस्त है और केन्द्र में उसकी सरकार भी बचा चुकी है। उन्होंने कहा कि राजनीति में हमारा कोई दुश्मन नहीं होता, बल्कि जो भी विरोध होते हैं सिद्धांत और विचारधारा के आधार पर होते हैं।

पार्टी के आगरा अधिवेशन में कल्याण सिंह के मंच पर उपस्थित होने के बारे में पूछे जाने पर, उन्होंने कहा कि यदि कोई आना चाहता है तो उसे मना कैसे किया जा सकता है। उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि मैं स्वीकार करता हूं कि कल्याण सिंह को निमंत्रण गया था, मगर वह संभवत: गलती से भेज दिया गया था।

इस उल्लेख पर कि कल्याण सिंह के पुत्र राजवीर सिंह सपा के पदाधिकारी हैं, यादव ने सीधा जवाब टालते हुए कहा कि यह प्रश्न उस समय क्यों नहीं उठाया गया जब राजवीर सिंह उनकी सरकार में मंत्री थे। लोकसभा चुनाव में कल्याण सिंह के विरुद्ध उम्मीदवार नहीं खड़ा करने के बारे में पूछे जाने पर यादव ने एक बार फिर यह कहते हुए सीधा जवाब टाल दिया कि हमने तो रायबरेली और अमेठी में भी उम्मीदवार नहीं खड़े किए, मगर किसी ने इस संबंध में तो कोई सवाल नहीं किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ये दोस्ती हम तोड़ेगेः मुलायम