DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर कोरिया की धमकियों के आगे नहीं झुकेंगेः ओबामा

उत्तर कोरिया की धमकियों के आगे नहीं झुकेंगेः ओबामा

परमाणु हथियार मुक्त विश्व का सपना देख रहे राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शनिवार को कहा कि अमेरिका और अन्य देश उत्तर कोरिया की परमाणु कार्यक्रम को आगे बढ़ाने की धमकियों के आगे नहीं झुकेंगे और अगले चार साल में दुनिया को परमाणु खतरे से मुक्त कराने के लक्ष्य की दिशा में और आगे बढेंगे।

ओबामा ने सनतोरी हॉल में एशिया के बारे में अपने व्यापक नीतिगत संबोधन में कहा कि अगले साल हम अपने परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में, दुनिया को चार साल में परमाणु खतरे से मुक्त कराने के लक्ष्य की ओर अग्रसर होंगे।

लगभग 1500 श्रोताओं को संबोधित कर रहे ओबामा ने साझी सुरक्षा के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए दुनिया को परमाणु मुक्त बनाने की जरूरत पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि विश्व अप्रसार संधि को मजबूत करने का मतलब किसी देश को अलग-थलग करना नहीं है बल्कि इसका मतलब यह है कि सभी देश अपनी जिम्मेदारियों को समक्षें।

ओबामा ने कहा इसमें ईरान, उत्तर कोरिया सभी शामिल हैं। उत्तर कोरिया ने परमाणु कार्यक्रम पर आगे बढ़ने के साथ-साथ टकराव और उकसावे का रास्ता चुना है। उन्होंने कहा यह स्पष्ट होना चाहिए कि रास्ता कहां जाता है। हमने प्योंगयांग पर प्रतिबंध लगाए हैं। हमने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उत्तर कोरिया के सामूहिक विनाश के हथियारों पर रोक लगाने के लिए प्रस्ताव पारित किए हैं।

राष्ट्रपति ने कहा कि हम धमकियों से नहीं डरेंगे, बल्कि अपनी कार्रवाइयों के माध्यम से यह संदेश देते रहेंगे कि अंतरराष्ट्रीय बाध्यताओं का पालन करने से उत्तर कोरिया के इनकार से केवल असुरक्षा को बढ़ावा मिलेगा।

ओबामा ने यह भी कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया को एक अलग भविष्य की पेशकश करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा अलगाव के बजाय उत्तर कोरिया के पास अंतरराष्ट्रीय एकीकरण का भविष्य हो सकता है। वह गरीबी के बजाय आर्थिक संपन्नता का विकल्प चुन सकता है जहां व्यापार, निवेश और पर्यटन से उसकी जनता को बेहतर जीवन जीने का अवसर मिल सकता है। असुरक्षा के बजाय प्योंगयांग सुरक्षा और सम्मान का भविष्य चुन सकता है।

ओबामा ने कहा कि भविष्य के बारे में फैसला करने के लिए उत्तर कोरिया का रास्ता स्पष्ट है। उसके परमाणु कार्यक्रम के बारे में छह पक्षीय वार्ता में उसे शामिल होना होगा, परमाणु अप्रसार संधि सहित पूर्व की प्रतिबद्धताओं का पालन करना होगा तथा कोरियाई प्राय:द्वीप को पूरी तरह परमाणु मुक्त करना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उत्तर कोरिया की धमकियों के आगे नहीं झुकेंगेः ओबामा