DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनु को पैरोल की सिफारिश कभी नहीं करताः सचिन पायलट

मनु को पैरोल की सिफारिश कभी नहीं करताः सचिन पायलट

कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने कहा कि अगर वह दिल्ली के मुख्यमंत्री होते तो मॉडल जेसिका लाल की हत्या के जुर्म में उम्रकैद की सजा काट रहे मनु शर्मा को पैरोल पर रिहा करने की सिफारिश कभी नहीं करते।

पायलट ने कहा कि शर्मा को पैरोल पर रिहा किए जाने से पहले बहुत ज्यादा विचार-विमर्श किया जाना चाहिए था। अब यह तथ्य कोई मायने नहीं रखता, क्योंकि वह पहले ही जेल पहुंच चुका है।

यह पूछे जाने पर कि क्या शर्मा के लिए पैरोल की सिफारिश करना दिल्ली सरकार की भूल थी, पायलट ने कहा मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री नहीं हूं। जहां तक मैं मामले के बारे में जानता हूं, अगर मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री होता तो उसे पैरोल पर रिहा करने की सिफारिश नहीं करता।

मुख्यमंत्री शीला दीक्षित की सिफारिश के बाद शर्मा को पैरोल पर रिहा किया गया था। शर्मा ने अपनी बीमार मां को देखने के लिए चंडीगढ़ जाने के लिए पैरोल पर रिहा किए जाने के लिए आवेदन दिया था। लेकिन उसे राजधानी में कुछ बारों में देखा गया।

आरोप है कि शर्मा ने पैरोल की शर्तों का उल्लंघन किया। शीला दीक्षित ने अपने फैसले के बचाव में कहा कि यह कानून के दायरे में था। तिहाड़ जेल में उम्र कैद की सजा काट रहा शर्मा दिल्ली उच्च न्यायालय में कानूनी लड़ाई हार चुका है। दिल्ली उच्च न्यायालय ने उसे जेसिका की 29 अप्रैल 1999 को सोशियलाइट बीना रमानी के टेमरिंड कोर्ट बार में हत्या करने का दोषी ठहराया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनु को पैरोल की सिफारिश कभी नहीं करताः सचिन पायलट