DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अफीम फैक्ट्री पुलिस के निशाने पर

अफीम फैक्ट्री से मारफीन और अफीम की होने वाली तस्करी का भण्डाफोड़ होते ही फैक्ट्री के कई और कर्मचारी भी पुलिस के निशाने पर आ गये हैं। पुलिस की डायरी में अफीम फैक्ट्री के कई ऐसे कर्मचारियों के नाम दर्ज हो गये हैं, जो लम्बे समय से फैक्ट्री के अंदर से मारफीन और अफीम की चोरी कर उसे बाहर बेचते हैं। ऐसे कर्मचारियों को चिह्नित कर पुलिस उन पर नजर गड़ाये हुए है। इनके खिलाफ सबूत जुटाने के लिए पुलिस टीम गठित कर दी गयी है। यह टीम ऐसे कर्मचारियों की चल-अचल सम्पत्ति समेत उनके गैर कानूनी धंधों की जांच-पड़ताल में जुट गयी है। यही नहीं इस दायरे में सीआईएसएफ के भी कई जवान आ रहे हैं। पुलिस सूत्रों के मुताबिक, चिह्नित किये गये कर्मचारियों की अचल सम्पत्ति की वीडियोग्राफी भी की जाएगी और इस बात की भी जांच-पड़ताल होगी कि, आखिरकार इतनी अकूत सम्पत्ति उनके पास कैसे आयी।


चौंका देने वाली बात तो यह है कि, अफीम फैक्ट्री में निर्धारित तनख्वाह पर नौकरी करने वाले कर्मचारियों के पास इतनी सम्पत्ति कहां से आयी है। अगर मामले की तह तक जायें तो यह पता चलता है कि, इस कमाई के पीछे गैर कानूनी धंधा जुड़ा हुआ है। अफीम फैक्ट्री से मारफीन और अफीम की होने वाली तस्करी से जुड़े रैकेट का भण्डाफोड़ करने के बाद पुलिस के हाथ कई बड़े सुराग लगे हैं। इसके अलावा पुलिस ने यह भी जानकारी एकत्रित कर ली है कि फैक्ट्री के कौन-कौन कर्मचारी इस गैरकानूनी धंधे से जुड़े हुए हैं।

पुलिस की डायरी में ऐसे कर्मचारियों की लम्बी फेहरिस्त है। ऐसे कर्मचारियों को चिह्नित करने के बाद पुलिस उनकी सभी गतिविधियों पर नजर गड़ाये हुए है।


पुलिस सूत्रों के मुताबिक, अफीम फैक्ट्री के कई कर्मचारियों का ताल्लुक जिले के काफी बड़े तस्करों से है। कर्मचारी फैक्ट्री के भण्डार से अफीम और मारफीन चुराकर बाहर लाते हैं और उन्हें मुंहमांगी कीमत पर तस्करों के हाथों में बेच देते हैं। इस संबंध में सीओ सिटी ओपी पाण्डेय ने बताया कि, फैक्ट्री के कई कर्मचारियों और जिले के कई बड़े तस्करों को चिह्नित कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि, इस गैर कानूनी धंधे से जो भी जुड़ा पाया जाएगा, उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अफीम फैक्ट्री पुलिस के निशाने पर