DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जौनपुर में बड़े हादसे से बची काशीराज एक्सप्रेस

दिल्ली से वाराणसी जा रही 0458 डाउन काशीराज सुपरफास्ट एक्सप्रेस गुरुवार की सुबह हरिहरपुर रेलवे क्रासिंग (जौनपुर) के पास बड़े हादसे का शिकार होने से बच गई। एक अनियंत्रित ट्रक हरिहरपुर रेलवे क्रासिंग पर लगा फाटक तोड़ते हुए ट्रेन के स्लीपर कोच से जा टकराया। टक्कर के बाद ट्रक पास में खड़ी टाटा सूमो के ऊपर पलट गया, जिससे गेटमैन समेत पांच लोग जख्मी हो गये। शुक्रवार की सुबह लगभग छह बजे हुए इस हादसे के कारण ढाई घंटे तक रेल यातायात व साढ़े तीन घंटे तक सड़क यातायात बाधित रहा। इसके चलते वरुणा एक्सप्रेस दो घंटे तक हरपालगंज स्टेशन पर खड़ी रही। हादसे में दो कोच के यात्री मामूली रूप से जख्मी हुए, लेकिन ट्रेन जब वाराणसी कैंट स्टेशन पहुंची तो यात्रियों के चेहरे पर खौफ साफ झलक रहा था। वाराणसी के चीफ एरिया मैनेजर पीके वाष्ण्रेय के मुताबिक, कोई यात्राी गंभीर रूप से जख्मी नहीं हुआ है। घटना की रिपोर्ट थाने में दर्ज करा दी गई है।


दिल्ली से वाराणसी के लिए चली काशीराज एक्सप्रेस शुक्रवार को सुबह लगभग छह बजे हरिहरपुर रेलवे क्रासिंग (सिंगरामऊ) से गुजर रही थी। रेल फाटक बंद था। इंजन समेत कई डिब्बे क्रासिंग को पार कर चुके थे, तभी सुल्तानपुर से गेहूं लादकर वाराणसी जा रहा ट्रक (यूपी 42-टी-4175) अनियंत्रित हो गया। रेल फाटक तोड़ते हुए ट्रक ट्रेन के एस टू और एस थ्री कोच से जा टकराया। ट्रेन से टक्कर के बाद ट्रक पास खड़ी टाटा सूमो (यूपी 78-एटी-5869) पर पलट गया। हादसे में ट्रक व सूमो के परखचे उड़ गये। मौके पर ट्रेन को हरी झंडी दिखा रहा गेटमैन महेंद्र कुमार (38) निवासी पीरपट्टी (भागलपुर) घायल हो गया। साथ ही ट्रक चालक बृजेश कुमार सिंह (35) निवासी गौरीगंज (सुल्तानपुर) और व खलासी मिंटू सिंह (22) निवासी रौजा (गौरीगंज) समेत दो अन्य लोग भी जख्मी हो गये।


आसपास के लोगों ने तत्काल इसकी सूचना स्टेशन मास्टर हरपालगंज एस.के. शुक्ल को दी। श्री शुक्ल ने वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देने के अलावा उसी समय उधर से गुजर रही वरुणा एक्सप्रेस को स्टेशन पर रोक लिया। टक्कर के चलते राजमार्ग पर जाम लग गया। सूचना पाकर मंडल वाणिज्य निरीक्षक आर.एच. चौरसिया, वरिष्ठ खंड अभियंता श्रीकृष्णनगर वी.के. श्रीवास्तव, यातायात निरीक्षक ध्रुव नारायण द्विवेदी, थानाध्यक्ष सिंगरामऊ आलमगीर ने मौके पर पहुंचकर पड़ताल की। सहमे यात्राियों ने 11 बजे वाराणसी कैंट स्टेशन उतरने पर रेल अधिकारियों को बताया कि, जोरदार धमाके के बाद उन्हें लगा कि ट्रेन में विस्फोट हुआ है। संयोग था कि किसी को अधिक चोट नहीं आई। टक्कर जिन कोच पर लगी थी, उनकी कई खिड़कियों के शीशे टूट गए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जौनपुर में बड़े हादसे से बची काशीराज एक्सप्रेस