DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पाक ने सच का साथ देने वालों को दिखाईं सलाखें

पाक ने सच का साथ देने वालों को दिखाईं सलाखें

पाकिस्तान में चोरी और धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार किए गए दो पाकिस्तानी पत्रकारों ने कहा है कि प्रशासन उनसे मुम्बई हमलों के सिलसिले में भारत में गिरफ्तार किए गए एकमात्र जीवित आतंकवादी अजमल आमिर कसाब के परिजनों का पता लगाने में अन्य पत्रकारों की मदद करने का बदला ले रहा है।

गिरफ्तार किए गए पत्रकार रब नवाज जोया और जावेद कंवल चंदोर पंजाब के ओकारा जिले के देपालपुर के निवासी हैं। देपालपुर के पास ही कसाब का पैतृक शहर फरीदकोट स्थित है। जोया और चंदोर देपालपुर प्रेस क्लब के क्रमश: अध्यक्ष और महासचिव हैं। उन्हें प्रेस क्लब के बाहर पार्क की गई एक कार से धन और मोबाइल फोन चुराने के आरोप में हाल में गिरफ्तार किया गया था।

बहरहाल, जोया और चंदोर ने कहा कि अधिकारी उन्हें पाकिस्तानी और विदेशी पत्रकारों को कसाब के परिजनों का पता लगाने में पिछले साल मदद करने पर सबक सिखा रहे हैं।

जोया और चंदोर ने कहा कि खुफिया एजेंसियां और स्थानीय प्रशासन उन्हें तबसे परेशान कर रहे हैं जबसे उन्होंने पाकिस्तानी और विदेशी मीडिया की टीम को अपनी फरीदकोट यात्रा के दौरान सहायता की थी कि कसाब उसी गांव का रहने वाला है या नहीं।

जोया ने कहा कि खुफिया एजेंसियों ने आखिरकार हमारे खिलाफ फर्जी मामले दर्ज करा ही दिए। मीडिया की स्वतंत्रता पर नजर रखने वाले रिपोर्टर्स विदाउट बार्डर्स ने उनकी रिहाई की मांग करते हुए कहा कि यह असहनीय है कि कसाब के बारे में सच्चाई सामने लाने में मदद करने के लिए उनके साथ अपराधियों जैसा बर्ताव किया जा रहा है।

जोया ने पंजाब के चीफ मिनिस्टर शाहबाज शरीफ को इस मामले में गौर करने के लिए कहा है। देपालपुर के पत्रकारों ने कल विरोध प्रदर्शन किया और पुलिस की ज्यादतियों के खिलाफ नारे लगाए। उन्होंने दोनों पत्रकारों की तत्काल रिहाई की मांग की। गौरतलब है कि पाकिस्तान ने शुरू  में कसाब को अपना नागरिक मानने से इनकार कर दिया था लेकिन पाकिस्तानी और विदेशी मीडिया द्वारा फरीदकोट में कसाब के परिवार का पता लगाए जाने के बाद सरकार को इस आतंकवादी को अपना बाशिंदा मानना पड़ा था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पाक ने सच का साथ देने वालों को दिखाईं सलाखें