DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोड़ा प्रकरण: यूनियन बैंक के सीएमडी को सम्मन

कोड़ा प्रकरण: यूनियन बैंक के सीएमडी को सम्मन

आयकर विभाग सोमवार को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के सीएमडी से पूछताछ करेगा कि बैंक ने कथित रूप से झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा के लिए काम करने वाले एक आदमी से 991 करोड़ रुपए से अधिक धन जमा करते हुए आवश्यक छानबीन क्यों नहीं की।

सूत्रों ने बताया कि बैंक के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक एमवी नायर को मुंबई कार्यालय के कर विभाग के अधिकारियों द्वारा सम्मन जारी किया गया है। बैंक पर भारी भरकम राशि जमा करते समय लापरवाही बरतने का आरोप है।

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित दिशानिर्देशों के मुताबिक, एक खाते में एक बार में 50,000 रुपए से अधिक की राशि जमा होने पर बैंकों से सतर्क होने की अपेक्षा की जाती है और माना जाता है कि बैंकों को इस संबंध में विस्तृत विवरण मांगने चाहिए।

कोड़ा के कथित खास आदमी मनोज पुनमिया ने 2008 और 2009 के दौरान मुंबई स्थित बालाजी सर्राफा बाजार में यूनियन बैंक के खाते में 991 करोड़ रुपए से अधिक धन जमा किया था।

दिलचस्प बात यह है कि 991 करोड़ रुपए में से करीब 500 करोड़ रुपए नकद जमा कराए गए। कहा जाता है कि कोड़ा अपने खास आदमियों बिनोद सिन्हा, मनोज पुनमिया और संजय चौधरी के जरिए हवाला का अवैध कारोबार चलाता था। ये तीनों व्यक्ति बालाजी सर्राफा बाजार में भी भागीदार हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोड़ा प्रकरण: यूनियन बैंक के सीएमडी को सम्मन