DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परीक्षा केंद्रों की सूची हुई फाइनल

सत्र 2010-2011 के लिए मार्च में होने वाली परीक्षाओं के लिए शुक्रवार को मंडल स्तर पर बैठक के बाद परीक्षा केन्द्रों की सूची फाइनल हो गई है। इस बार जिले में 105 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। मेरठ में शुक्रवार को कमीशनर और अन्य अधिकारीयों के साथ परीक्षा से संबेधित विषयों का निर्धारण करने के लिए बैठक बुलायी गई थी। इस बैठक में बोर्ड की ओर से जारी हुए गाइड लाइन को ध्यान में रखते हुए जनपद कमेटी के ओर से भेजे गए केन्द्रों की जांच की गई। जांच में सही पाए गए केन्द्रों को पास कर दिया गया। गाजियाबाद की ओर से 105 केन्द्रों का प्रस्ताव भेजा गया था जो पास हो गया।


डीआईओएस रविन्द्र सिंह ने बताया कि इस साल हाई स्कूल और इंटर में छात्रों की संख्या कम होने के कारण पिछली बार से 14 सेंटर कम बनाए गए हैं। बैठक में जिला कमेटी की ओर से भेजे गए सभी स्कूलों को परीक्षा केन्द्र बनाए जाने के लिए रजामंदी दे दी गई है।
 
क्या हैं परीक्षा केन्द्र बनाने के नियम --
- स्कूल ब्लैक लिस्ट नहीं होना चाहिए
- स्कूल को मान्यता मिले कम से कम तीन साल होने चाहिए
- स्कूल में पर्याप्त फर्नीचर और साजोसामान होना चाहिए
- स्कूल में प्रश्न पत्रों और उत्तर पुस्तिकाओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:परीक्षा केंद्रों की सूची हुई फाइनल