DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बॉलीवुड का राजकुमार कौन शाहिद, रणबीर, नील या जॉन ?

बॉलीवुड का राजकुमार कौन
शाहिद, रणबीर, नील या जॉन ?

कोई कुछ भी कहे, लेकिन इंडस्ट्री में खान (शाहरुख, आमिर और सलमान) का  ही जलवा है। पर आप अक्षय कुमार और तिक को ऐसे ही इग्नोर नहीं कर सकते। कुछ और सितारे भी हैं, जो धीरे-धीरे दर्शकों के दिलों में अपनी पैठ बना रहे हैं। बॉक्स ऑफिस की सफलता को छोड़ भी दें तो दर्शकों के एक खास वर्ग यानी युवाओं का दिल जीतने के लिए जो भी जरूरी सामग्री चाहिये, उसके लिए खानों के दिन कुछ वर्षो में लदते से दिखाई दे रहे हैं। हां, अक्की और तिक इस दौड़ में फिलहाल बने रहेंगे। ऐसे में युवाओं और खासतौर पर युवतियों के दिलों पर राज करने के लिए किस राजकुमार की जरूरत पड़ेगी। फिलहाल चार नाम जेहन में तेजी से उभर कर सामने आते हैं- शाहिद, रणबीर, नील और जॉन।

ये लोग ऐसी ही भूमिकाएं कर पायेंगे, जैसी कि हाल ही में सलमान खान ने ‘वॉन्टेड’ में की है, आमिर खान ने ‘तारे जमीन पर’ में तथा शाहरुख खान ने ‘रब ने बना दी जोड़ी’ में की है। अक्षय कुमार पर भी उम्र का फीयर फैक्टर भारी पड़ रहा है। पर फिलहाल उन्हें इतनी चिंता की जरूरत नहीं, क्योंकि एक्सरसाइज और नियमों वाली डाइट के माध्यम से उन्होंने खुद को काफी जवां बना रखा है। वह एक्शन छोड़ कॉमेडी फिल्मों की ओर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं। बावजूद इसके समय आ गया है बॉलीवुड के उस रील लाइफ राजकुमार की तलाश का, जिसके साथ रोमांटिक सीन्स में नई अभिनेत्रियां अपना जलवा बिखेरेंगी। यह राजकुमार कौन हो सकता है ? शायद इसी साल यह तय हो जाये या फिर अगले साल के पहले एक -दो महीने  में ही  बॉलीवुड को उसका राजकुमार मिल जाये। बॉलीवुड के राजकुमार के प्रबल दावेदारों में दो कपूर यानी शाहिद और रणबीर के अलावा नील नितिन मुकेश और जॉन अब्राहम के नाम प्रमुख हैं। इन सभी की फिल्में इस साल के अंत तक या अगले साल के शुरू में रिलीज होनी हैं। देखा जाए तो जॉन अब्राहम को कोई खास सफलता प्राप्त नहीं हुई है, पर युवतियों में उनका जबरदस्त क्रेज है। पिछले साल ‘दोस्ताना’ की सफलता के बाद इस साल फिल्म ‘न्यूयॉर्क’ में अपने अभिनय की बदौलत वह समालोचकों का ध्यान अपनी ओर आकृष्ट कर पाने में सफल रहे हैं। अगले महीने यानी 11 दिसंबर को उनकी डेविड धवन द्वारा निर्देशित फिल्म ‘हुक या क्रुक’ रिलीज होनी है।

इसके अलावा जॉन ‘सिटी :1-800-लव’, सोहम शाह और करण जौहर की एक अनाम फिल्म, दीपा मेहता की ‘कामागाटा मारू’, ‘रास्ते’, ‘रॉक स्टार’ और ‘इस प्यार को क्या नाम दूं’ जैसी फिल्मों में भी काम कर रहे हैं। पर जॉन जरा संभल कर। आपके को-स्टार रहे नील नितिन मुकेश आपको कड़ी चुनौती दे सकते हैं। नील ने अभी डेविड धवन की एक फिल्म में अक्षय कुमार के साथ जॉन अब्राहम की जगह ली है। इस फिल्म में नील एक पोल डांसर की भूमिका में होंगे। वह  अक्षय कुमार के साथ स्ट्रिप क्लब के मेम्बर के रूप में नजर आएंगे। पर पिछले हफ्ते रिलीज हुई फिल्म ‘जेल’ में उनके अभिनय की फिर से तारीफ हुई। नील की एक अन्य फिल्म ‘तेरा क्या होगा जॉनी’ धीमी रफ्तार से बन रही है, जिसे लेकर दर्शकों में काफी उत्सुकता है। पर राजकुमार की इस रेस में नील को उस समय रणबीर से कड़ी टक्कर मिली, जब दोनों की फिल्में एक ही दिन रिलीज हुईं।
 
जी हां, ‘जेल’ और रणबीर कपूर की फिल्म ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ एक साथ पिछले सप्ताह ही रिलीज हुईं। अगर नील को अभिनय की शाबाशी मिली तो रणबीर को बॉक्स ऑफिस की कामयाबी का सहारा मिला। रणबीर की यह फिल्म जबरदस्त ओपनिंग के साथ इन दिनों खूब चर्चा में है। चूंकि फिल्मों की कामयाबी और उससे उपजी सितारों की प्रसिद्धि से ही बॉलीवुड के अगले राजकुमार का तय होना लाजमी है, सो इस लिहाज से अगला महीना शाहिद कपूर के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है। जॉन और रणबीर के बीच सीधा मुकाबला नहीं है, पर इसे एक दिलचस्प त्रिकोण बनाने में शाहिद कपूर की भूमिका अहम हो सकती है।
 
इस साल शाहिद की तीसरी फिल्म ‘डांस पे चांस’ अगले महीने रिलीज होनी है। वैसे भी उन्हें ‘कमीने’ से न केवल शोहरत, बल्कि बॉक्स ऑफिस का मुनाफा भी हासिल हो चुका है। ‘डांस पे चांस’ जसा कि नाम से ही जहिर है डांस पर केन्द्रित फिल्म है। फिल्म के निर्देशक केन घोष हैं। शाहिद के साथ नायिका हैं जेनेलिया डिसूजा।

शाहिद, नील और रणबीर के इस त्रिकोण की खास बात यह है कि तीनों अभिनेता अपनी नायिकाओं के साथ पहली बार अभिनय कर रहे हैं। यही नहीं, इन फिल्मों के निर्देशकों की शैलियां भी अलग हैं। तो क्या शाहिद की अगली फिल्म की सफलता या असफलता ही अगले राजकुमार का नाम तय कर देगी। या फिर इसके लिए अगले साल की शुरुआत का इंतजार करना होगा, जब जॉन की कोई फिल्म रिलीज होगी।

यह तय करना इतना आसान नहीं है। यह तय होगा इन अभिनेताओं की फिल्मों के बॉक्स ऑफिस प्रदर्शन पर और उसके बाद उन्हें मिलने वाली नई फिल्मों के ऑफर्स से। इस लिहाज से शाहिद कपूर का पलड़ा भारी लगता है, क्योंकि इस साल यह उनकी चौथी फिल्म है। बेशक ‘दिल बोले हड़िप्पा’ से उन्हें कामयाबी नहीं मिली, लेकिन उसकी असफलता का सारा श्रेय तो रानी मुखर्जी के सिर मढ़ा गया। रही-सही कसर यशराज बैनर पर दोषारोपण से पूरी हो गयी। भाग-दौड़ में शाहिद साफ बच के निकल आये। उन्होंने न तो फिल्म के प्रोमोशन में ज्यादा हिस्सा लिया था और न ही फिल्म टीवी प्रोमोज में उन्हें ज्यादा तवज्जो दी गयी थी। इस फिल्म को लेकर रानी को ही ज्यादा हाइप दी गयी थी।

इस लिहाज से शाहिद फिल्म के पिटने के बाद भी सेफ नजर आते हैं। ठीक उसी तरह से जैसे ‘जेल’ के मंदे बिजनेस के बाद नील पर किसी ने उंगली नहीं उठाई। ‘जेल’ के मंदे बिजनेस के लिए सारा दोष फिल्म के निर्देशक के खाते में गया। इस लिहाज से रणबीर काफी लकी रहे। हालांकि उनकी फिल्म ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ को बहुतेरे फिल्म समीक्षकों ने अच्छी रेटिंग से नहीं नवाज था, पर बॉक्स ऑफिस पर इस फिल्म की कामयाबी सारी कहानी कह गयी यानी फिल्म के प्रदर्शन और उनके परिणाम के हिसाब से यह चार हीरो बाजर में हॉट केक बने हुए हैं। आने वाले दिनों में साफ हो जएगा कि बॉलीवुड में चॉकलेटी छवि के साथ इनमें से कौन राजकुमार की कुर्सी पर बैठेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बॉलीवुड का राजकुमार कौन शाहिद, रणबीर, नील या जॉन ?