DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोलकाता में 17-18 को उल्का पिंडों की बौछार!

कोलकाता में 17-18 को उल्का पिंडों की बौछार!

कोलकाता के आसमान में 17 नवंबर और इसके बाद की रात में आसमान रोशनी से चमचमाता हुआ दिखेगा जब लीयोनिड उल्का पिंड की प्रकाशीय बौछार होगी।

एमपी बिड़ला तारामंडल के निदेशक देवीप्रसाद द्वारी ने बताया कि समय समय पर घटित होने वाली लीयोनिड उल्का पिंड की बौछार 17 नवंबर की रात और 18 नवंबर की सुबह लगभग तीन बजे चरम पर होगी।

उन्होंने कहा कि हर साल 16 और 17 नवंबर के आसपास धरती पी-55 टेंपल टटल धमूकेतु के मलबे से होकर गुजरती है, इसलिए कोई भी उल्का पिंडों की बौछार की उम्मीद कर सकता है जो 18 नवंबर को सुबह तीन बजकर चार मिनट से तीन बजकर 14 मिनट तक चरम पर होती है। द्वारी ने कहा कि घटना को एशिया और पूर्वी यूरोप के हिस्सों में देखा जा सकेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोलकाता में 17-18 को उल्का पिंडों की बौछार!