DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दांतों की सुरक्षा

दांतों की सुरक्षा बेहद जरूरी है। ऐसे में जरूरी है कि आप कुछ बुनियादी बातों को ध्यान में रखें ताकि आप बाद में दांत से जुड़ी स्वास्थ्य परेशानियों से बचा जा सकें।
ल्ल दूध में विटामिन डी और कैल्शियम की पर्याप्त मात्र होती है। जिससे दांत मजबूत होते है। सोने से पहले दूध पीना सही नहीं है। ध्यान रखें कि सोने से एक घंटे पहले दूध न पिएं। इससे दांतों की केविटी पर फर्क पड़ता है।
ल्ल लौंग दांत दर्द में काफी प्रभावशाली होता है। लौंग में मौजूद यूजेनॉल दांत दर्द में आराम देता है। आप लौंग को चबाएं नहीं, इसे आप दर्द हो रहे दांत के बगल वाले दांत पर रख लें। और हां, एक बात न भूलें कि यह दांत दर्द में आराम देगा लेकिन इसे एकमात्र उपाय न मानें और डॉक्टर से सलाह जरूर लें।
ल्लपीला इनेमल, सफेद इनेमल की तुलना में ज्यादा मजबूत होता है। पीली टोन उसमें मौजूद मिनरल की वजह से होती है जिससे वो शक्तिशाली होते है। इनेमल मजबूत करने के लिहाज से आवश्यक बात ये है कि आपके इनेमल में कम से कम 1000 फ्लोराइड प्रति मिलियन हो।
ल्ललोगों में भ्रांति होती है कि लेमन जूस पीने से दांत सफेद हो जाते हैं, पर लेमन जूस में अम्ल होता है। ऐसे में आपके दांतो की सेहत के लिए ये बेहतर नहीं है।
ल्ल माउथवॉश का प्रयोग कम से कम करें। माउथवॉश में एल्कोहल की मात्रा होती है जिससे आपका मुंह सूखा हुआ रहता है। एल्कोहल वाले माउथवॉश के इस्तेमाल में सावधनी बरतें।
ल्ल खाने के बाद ब्रश न करें। खाने के पहले ब्रश करना जहां फायदेमंद, तो बाद में नुकसानदायक। खाने के बाद पानी पीना ही पर्याप्त है। खाने के पहले ब्रश करने से दांतों में फ्लोराइड की कोटिंग हो जाती है जिससे दांत मजबूत रहते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दांतों की सुरक्षा