DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बीएचयू छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

बीएचयू विधि संकाय के एलएलबी प्रथम वर्ष के छात्र छपरा (बिहार) निवासी गौरव गुप्ता (29) ने एम्फीथियेटर ग्राउंड में पेड़ से रस्सी के सहारे फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। गुरुवार को मार्निग वॉक पर निकले लोगों ने पेड़ से लटकता शव देखा, तो प्राक्टर कार्यालय को सूचना दी। आनन-फानन में विश्वविद्यालय प्रशासन ने शव को उतारा। मृतक के परिजनों को भी सूचित किया गया, जो देर शाम पहुंचे। शोक में गुरुवार को विधि संकाय की कक्षाएं निरस्त कर दी गईं।

आत्महत्या का स्पष्ट कारण पता नहीं चल सका, लेकिन सहपाठियों का कहना था कि 11 दिसंबर से शुरू होने वाली परीक्षा को लेकर गौरव तनाव में था। आत्महत्या करने से पहले गौरव उर्फ बंटी ने बुधवार की रात परिजनों को एसएमएस किया कि ‘मैं आप लोगों की आकांक्षाओं पर खरा नहीं उतर सका। मुङो माफ करना।’ इससे परेशान परिजनों ने एसएमएस कर उसे वापस बुलाया था। छपरा निवासी डा. गोपाल गुप्ता के इकलौते पुत्र गौरव एलएलबी प्रवेश परीक्षा में वह सेकेण्ड टॉपर था। इससे पूर्व भी उसने वर्ष 2007 में बीएचयू एलएलबी में प्रवेश लिया था, लेकिन परीक्षा में नहीं बैठ सका। इस वर्ष दोबारा बीएचयू में प्रवेश लिया था।

डा. भगवान दास छात्रवास के कमरा नंबर 28 में उसके रूममेट छपरा के ही मनीष कुमार सिंह ने बताया कि बुधवार अपराह्न् 2 बजे तक कक्षा में था उसके बाद गायब हो गया। रात में खाना खाने भी नहीं पहुंचा। 11 बजे के बाद गौरव के पिता ने फोन करके मनीष से कहा कि गौरव ने मैसेज किया है, उसका पता करो। सहपाठियों ने उसे खोजने का प्रयास किया, लेकिन पता नहीं चला।

संकाय प्रमुख प्रो. डीपी वर्मा ने बताया कि तीन दिन पहले ही गौरव अपने घर से लौटा था। उसके साथियों की मानें, तो घर से लौटने के बाद से वह गुमसुम था। छात्र अधिष्ठाता प्रो. एसके शर्मा ने बताया कि छात्र के शव को मार्चरी में रख दिया गया है। शुक्रवार को पोस्टमार्टम होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बीएचयू छात्र ने फांसी लगाकर की खुदकुशी