अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संक्षिप्त खबर

सोरन ने माध्यमिक शिक्षा निदेशक का काम संभालाड्ढr आइएएस अधिकारी एफ सोरन ने माध्यमिक शिक्षा निदेशक का कार्यभार संभाल लिया है। शिक्षा पदाधिकारी लक्ष्मण सिंह को निदेशक का प्रभार दिया गया था। अधिकारियों के साथ बैठक कर काम में तेजी लाने का निर्देश भी निदेशक ने दिया है।ड्ढr अधिवक्ता के निधन पर शोकसभाड्ढr झारखंड हाइकोर्ट के वकील एसके सहाय के निधन पर पूर्ण पीठ ने शोक व्यक्त किया। चीफ जस्टिस की कोर्ट में अपराह्न 1.30 बजे शोकसभा का आयोजन किया गया। दो मिनट का मौन रख कर दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की गयी। इसके बाद अदालत की कार्यवाही स्थगित कर दी गयी।ड्ढr कंपाउंडर का निधन यूनियन नाराजड्ढr सीसीएल के कंपाउंडर अनिल कुमार का आकस्मिक निधन गांधीनगर अस्पताल में सोमवार को हो गया। एनसीओइए के महासचिव मिहिर चौधरी ने इलाज में कोताही बरतने की बात कही। उन्होंने सीएमओ से बात भी की है। छाती में दर्द की शिकायत के बाद सुबह सात बजे कुमार को कैाुअल्टी में भर्ती कराया गया। इक्ाामिनेशन टेबल पर ही उन्हें करीब 0 बजे तक रखा गया था। इस दौरान उन्हें किसी प्रकार की राहत नहीं मिली। चीफ पायलट का वेतन रोकने पर जवाब तलबड्ढr रांची। हाइकोर्ट ने राज्य के चीफ पायलट का वेतन बिना किसी कारण के रोके जाने पर सरकार को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। चीफ पायलट एके श्रीवास्तव की याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस डीएन पटेल की कोर्ट ने सरकार को इस मामले में 28 मई तक शपथपत्र दाखिल करने का निर्देश दिया है। श्रीवास्तव ने याचिका दायर कर कहा कि वह राज्य के चीफ पायलट एवं नागर विमानन विभाग में विशेष सचिव हैं। सरकार ने जनवरी 0से उनका वेतन रोक दिया है। वेतन रोकने के पहले उन्हें शो कॉज भी नहीं किया गया और कोई कारण भी नहीं बताया गया है। वह अभी भी अपनी सेवा दे रहे हैं। सुनवाई के बाद कोर्ट ने सरकार को शपथपत्र दाखिल कर यह बताने को कहा कि बिना किसी कारण के चीफ पायलट का वेतन क्यों रोका गया। मामले की अगली सुनवाई 28 मई को होगी। शिक्षण संस्थानों के पास तंबाकू की बिक्री पर रोकसंवाददाता रांची शिक्षण संस्थानों से एक सौ गज के दायर के भीतर तंबाकू बिक्री पर रोक लगा दी गयी है। राज्य तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ ने यह निर्देश दिया है। इस पर नियंत्रण के लिए इनफोर्समेंट स्क्वायड का गठन किया गया है। इसमें डॉ विभा रानी, डॉ दीनानाथ सिंह, केपी सिंह और सुरंद्र प्रसाद शामिल हैं। तंबाकू नियंत्रण पदाधिकारी के अनुसार रांची को स्मोक फ्री बनाने के लिए सार्वजनिक, सरकारी और गैर सरकारी संस्थान में धूम्रपान निषेध का बोर्ड लगाना अनिवार्य है। इसका उल्लंघन करनेवाले पर स्क्वायड दंडित करगा। कुछ संस्थानों को चेतावनी दी गयी है। अब इनसे अर्थदंड भी वसूला जायेगा। दुकानदारों से भी शैक्षणिक संस्थान से एक सौ गज के दायर के बाहर तंबाकू बेचने की अपील की गयी है। अफसर करंगे कोल इंडिया चेयरमैन से न्याय की मांग संवाददाता रांची कोल इंडिया के इ-1 से इ-3 ग्रेड के अधिकारी अपने साथ हुई नाइंसाफी से चेयरमैन पार्थ एस भट्टाचार्य को अवगत करायेंगे। वस्तुस्थिति का उल्लेख करते हुए हस्ताक्षरयुक्त ज्ञापन उन्हें हर कंपनी की ओर से सौंपा जायेगा। इसमें उनसे न्याय की गुहार लगायी जायेगी। पूर कोल इंडिया में इस ग्रेड के अधिकारियों की संख्या लगभग चार हाार है।ड्ढr सीसीएल के अधिकारी मंगलवार को उन्हें पत्र भेजेंगे। भुक्तभोगियों का कहना है कि आम तौर पर पे रिवीजन में स्केल बदलता है। यहां स्केल के साथ-साथ ग्रेड भी बदल गया है। इससे उनका कैरियर ग्रोथ प्रभावित होगा। एक ही पद पर वर्षो तक रहना होगा। आर्थिक नुकसान अलग होगा। उन्हें विश्वास है कि कोल इंडिया हालात को समझते हुए इसमें सुधार करगा। पत्र की प्रतिलिपि डीपी आर मोहन दास एवं सीएमओएआइ को भी भेजा जायेगा।ड्ढr 440 एमटी उत्पादन लक्ष्यड्ढr कोल इंडिया वर्ष 2000 में 440 मिलियन टन उत्पादन करगा। पिछले साल कंपनी ने करीब 403 एमटी उत्पादन किया था। यह बीते साल से करीब 37 एमटी अधिक है। जानकारी के मुताबिक पहले कंपनियां कोल इंडिया से उत्पादन का एमओयू किया करती थी। इस बार यह कोयला मंत्रालय से हुआ है।ड्ढr सीसीएल अधिकारी बदलेड्ढr सीसीएल के तीन अधिकारी बदले गये हैं। डीके सिंह केडीएच के मैनेजर बनाये गये हैं। एके ओझा को केडीएच से डकरा जीएम ऑफिस भेजा गया है। इसी तरह एन नाथ को केडीएच-बी से केडीएच भेजा गया है। कमीशन की मुहर लगी नहीं, बन गये अफसरसंवाददाता रांची लोक सेवा आयोग की मुहर लगे बगैर ही अफसर बन गये। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के सर्वोच्च पद पर बैठा दिया गया। क्लास-2 अफसर के लिए लोक सेवा आयोग से मुहर लगनी जरूरी है, परंतु सरकार बिना कमीशन की सहमति से ही इन पदाधिकारियों की पोस्टिंग कर रही है। यह मामला विधानसभा में भी उठ चुका है, लेकिन अब तक कार्रवाई नहीं हो पायी है।ड्ढr राज्य सरकार ने 10 में संस्कृत कॉलेज को अंगीभूत कर लिया था। इसमें कार्यरत अवर शिक्षा सेवा संवर्ग के व्याख्याताओं ने सरकार के अधीन सेवाएं रखने का विकल्प दिया। बिहार शिक्षा सेवा वर्ग-2 में प्रोमोशन को लेकर संबंधित व्याख्याताओं ने हाइकोर्ट में मामला दायर किया। कोर्ट ने सभी को क्लास-2 अफसर बनाने का आदेश दिया, परंतु सरकार बिना पूरी प्रक्रिया अपनाये, इन्हें महत्वपूर्ण पदों का कार्यभार सौंपती गयी। झारखंड में माध्यमिक शिक्षा निदेशक के पद पर रहे लक्ष्मण सिंह और हाारीबाग के आरडीडीइ चंद्रकांत त्रिपाठी इनमें शामिल हैं। मामला झारखंड विधानसभा में भी उठा। एजी ने भी कमीशन से सहमति का सुझाव दिया, परंतु अब तक स्थिति यथावत है। हटिया-यशवंतपुर परीक्षा स्पेशल ट्रेन 14 को हिन्दुस्तान ब्यूरो रांची हटिया से यशवंतपुर के लिए सुपरफास्ट परीक्षा स्पेशल ट्रेन 14 मई को हटिया से खुलेगी। 12 मई से इस ट्रेन में टिकट का आरक्षण होगा। सीनियर डीसीएम के अनुसार बेंगलुरू में 17 मई को आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा में विद्यार्थियों की सुविधा के लिए परीक्षा स्पेशनल ट्रेन चलाने का निर्णय लिया गया है। उक्त ट्रेन (0835) हटिया से 14 मई को 18.20 बजे यशवंतपुर के लिए प्रस्थान करगी और 16 मई को सवेर पांच बजे यशवंतपुर पहुंचेगी। परीक्षा समाप्त होने के बाद परीक्षार्थियों को लेकर उक्त ट्रेन (0836) 17 मई को रात्रि 22.15 बजे यशवंतपुर से रवाना होगी। 1मई को सवेर 0बजे ट्रेन हटिया पहुंचेगी।ड्ढr इस ट्रेन में कुल 12 कोच होंगे।जिसमें दो सामानयान, आठ स्लीपर, एक टू एसी और एक साधारण कोच होगा। इस ट्रेन में सिर्फ हटिया से यशवंतपुर तक के टिकट लिए जा सकेंगे। बेंगलुरू में होनेवाली संयुक्त प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए छात्र-छात्राओं के साथ-साथ अभिभावकों को बेंगलुरू के लिए ट्रेन में आरक्षण नहीं मिलने के कारण परशानी हो रही थी। ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संक्षिप्त खबर