DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इस शहर के हर शख्स में रोमांच-सा क्यूं है

इस शहर के हर शख्स में रोमांच-सा क्यूं है

वार्षिक ‘प्रीमियर ईवेंट’ अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला कल से प्रगति मैदान में शुरू हो रहा है। दिल्ली और आसपास के शहरों के लोगों को इस ‘इंडिया मैगा शो’ का बेसब्री से इंतजार रहता है। यूं तो इस आलीशान मेले में हर बार अनेक नये आकर्षण होते हैं, लेकिन दर्शकों को अच्छा यह लगता है कि मेले में एक तो नये-नये प्रोडक्ट्स की जानकारी मिलती है, दूसरे हर पैवेलियन में डिस्काउंट और स्कीमों के साथ खरीदारी का भरपूर मौका भी मिलता है। 29वें इंडिया इंटरनेशनल ट्रेड फेयर में भी आपको यह मौका पूरी तरह मिलेगा। इसके अलावा इस बार मेले में कुछ नये अनुभव भी होंगे। पहली महत्वपूर्ण बात यह है कि व्यापार मेले को इस वर्ष एक ‘ग्रीन ईवेंट’ घोषित किया गया है अर्थात् पर्यावरण की रक्षा में दर्शकों को भी भागीदार बनाया जायेगा। इस बार से मेले में प्लास्टिक बैग्स का प्रयोग नहीं होगा। दर्शकों को वहां ईको फ्रेंडली बैग्स उपलब्ध कराये जायेंगे। इस दफा प्रगति मैदान को ‘नो स्मोकिंग जोन’ भी घोषित किया गया है। इस वर्ष अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में देश भर से लगभग 7,500 संस्थानों के अलावा 28 देशों के अनेक व्यवसायी शामिल होंगे। इस बार ट्रेड फेयर में पार्टनर स्टेट दिल्ली है तो उत्तराखंड फोकस स्टेट घोषित की गई है, जबकि थाईलैंड पार्टनर कंट्री होगी और चीन इस बार की फोकस कंट्री है। जाहिर है इन देशों के पैवेलियन में दर्शकों को बहुत कुछ विशेष देखने को मिलेगा। ट्रेड फेयर में आपको मौजमस्ती और खरीदारी के अलावा देश की प्रगति एवं उपलब्धियों को जानने का मौका भी मिलता है। अंतरिक्ष जगत में प्रवेश के बाद आज भारत चांद की सतह छूने को तैयार है। इस महान उपलब्धि को मेले में ‘इंडिया-ए स्पेस ओडिसी’ नामक विशेष प्रदर्शनी में दर्शाया जा रहा है। यह प्रदर्शनी नेहरू पैवेलियन में देखी जा सकती है। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले का हर वर्ष एक थीम पर आधारित होता है। इस वर्ष की थीम है ‘एक्सपोर्ट ऑफ सर्विसेज’ अर्थात् ‘सेवा सुविधाओं का निर्यात’। रोजगारोन्मुख यह थीम युवाओं को अधिक आकर्षित करेगा।

 मेले में घूमते हुए आपको राज्य मंडपों का बाहरी स्वरूप भी आकर्षित करता होगा, इसलिए इनकी बाहरी सजावट में हर वर्ष कुछ नया करने का प्रयास किया जाता है। इस बार भी आपको कई पैवेलियन्स की बहुरंगी छवि और भव्यता आकर्षित करेगी।

 शॉपिंग के दीवानों के लिए तो व्यापार मेला एक भव्य शापिंग ईवेंट के समान है। राज्यों के पैवेलियन में दर्शक वहां के विशेष परिधान और हस्तशिल्प जैसी वस्तुएं खरीद सकते हैं, जबकि इलेक्ट्रॉनिक्स, गुड लिविंग, कंज्यूमर प्रोडक्ट और सरस आदि पैवेलियम में रोजमर्रा की अनेक वस्तुओं के अलावा प्रोसेस्ड फूड और होम एप्लाइंसेज आदि डिस्काउंट पर खरीद सकेंगे। अधिकतर देश अपने उत्पादों को यहां केवल प्रदर्शित करते हैं, लेकिन पाकिस्तान, थाईलैंड, श्रीलंका, अफगानिस्तान, भूटान जैसे पड़ोसी देशों के पैवेलियन्स में आप वहां के हस्तशिल्प एवं वस्त्र आदि खरीद सकते हैं। इसी तरह खान-पान के शौकीन लोगों को व्यापार मेला खासतौर पर आकर्षित करता है। पहले यहां मंडपों के निकास पर बने ओपन एयर फूड कोर्ट में व्यंजनों का स्वाद लिया जाता था, लेकिन इस बार आप विभिन्न राज्यों के व्यंजनों का स्वाद एक ही स्थान पर ले सकेंगे। मेले का एक अन्य आकर्षण राज्यों के सांस्कृतिक कार्यक्रम भी हैं, जिनका लुत्फ शाम के समय उठाना न भूलियेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इस शहर के हर शख्स में रोमांच-सा क्यूं है