DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लव जेहाद के बारे में कोई सबूत नहीं: केरल पुलिस

केरल पुलिस ने बुधवार को उच्च न्यायालय से कहा कि लव जेहाद अभियान के बारे में कोई निश्चित सबूत नहीं मिला है जिसके तहत गैर मुस्लिम युवतियों को कथित तौर पर फुसला कर उनसे विवाह किया जाता है और उनका इस्लाम में धर्मान्तरण किया जाता है।
 
अदालत में दाखिल एक बयान में पुलिस महानिदेशक जेकब पुन्नोस ने कहा कि राज्य में लव जेहाद के संगठित काम के बारे में विभिन्न जिलों के पुलिस अधीक्षकों और अधीनस्थ अधिकारियों की विभिन्न मतों वाली रिपोर्ट के कारण वह वह किसी निश्चित निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सके हैं।

डीजीपी ने अदालत के 26 अक्टूबर के आदेश का पालत करते हुए पुलिस अधीक्षकों की 18 रिपोर्ट सीलबंद लिफाफे में अदालत में दाखिल की। अदालत में डीजीपी के पूर्व बयान पर असंतोष जताते हुए कहा कि उनके कुछ जवाब अस्पष्ट हैं तथा एक दूसरे से तालमेल नहीं खाते। अदालत ने उन्हें आज उन रिपोर्ट को सीलबंद लिफाफे में पेश करने का निर्देश दिया था जिसके आधार पर उन्होंने लव जेहाद के बारे में अपना बयान दिया था।

डीजीपी ने 22 अक्टूबर को दिये एक बयान में कहा था कि इस बात पर संदेह करने के कारण है कि गैर मुस्लिम लड़कियों के मुस्लिम लड़कों से प्यार करने के बार उन्हें इस्लाम में धर्मान्तरण के लिए राजी करवाने के बारे में केन्द्रित प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन राज्य में लव जेहाद नामक किसी संगठन की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:लव जेहाद के बारे में कोई सबूत नहीं: केरल पुलिस