अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चार पर्यटन स्थलों पर बनेगा फूडप्लाजा

पर्यटकों को लुभाने के लिए पर्यटन विकास निगम चार जगहों पर फूडप्लाजा बनाएगा। इसके पूर्व पटना में भी दो स्थलों पर फूडप्लाजा बनाने का फैसला लिया जा चुका है। पटना में जहां निगम खुद फूडप्लाजा बनाएगा वहीं बाकी चार जगहों पर पीपुल्स पब्लिक पार्टनरशिप(पीपीपी) के तहत इसका निर्माण होगा। इस बाबत निगम ने एक्सप्रशन ऑफ इंटरस्ट (ईओआई) निकाल दिया है। राज्य सरकार द्वारा पर्यटन को उद्योग की सुविधाएं दिए जाने की घोषणा से उम्मीद बंधी है कि जल्द ही फूड प्लाजा का निर्माण होगा और विदेशी पर्यटकों को यहां विश्वस्तरीय भोजन आदि मिलने लगेगा।ड्ढr ड्ढr सूबे के प्रमुख पर्यटन स्थलों के आसपास पर्यटकों के लिए सुविधाएं विकसित करने की कवायद के तहत जहानाबाद, ढोभी घाट, हिसुआ व राजगीर में पीपीपी के तहत फूडप्लाजा बनाया जाएगा। राजगीर में दो स्थानों पर फूडप्लाजा बनेगा। इसमें एक रोपवे के पास बनेगा। रोपवे के पास फूडप्लाजा खुलने से पर्यटकों को काफी सहूलियत होगी। रोपवे के पास काफी संख्या में पर्यटकों की भीड़ जुटती है। दूसरी ओर पटना में गोलघर व गांधीघाट पर भी फूडप्लाजा बनेगा। फूडप्लाजा में पर्यटकों को इंडियन व कंटीनेन्टल फूड के साथ ही अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड की कॉफी भी मिलेगी। निगम को भरोसा है कि फूडप्लाजा खुलने से विदेशी पर्यटकों को यहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं मिल सकेंगी। निगम की प्रबंध निदेशक सह पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव रश्मि वर्मा के मुताबिक मार्च को इंटरनेशनल फूड चेन के संचालकों के साथ बैठक होगी।ड्ढr ड्ढr 1दिनों में नहीं पहुंचा फ्लोटिंग रस्त्रां का जहाजड्ढr पटना (का.सं.)। फ्लोटिंग रस्त्रां के लिए कोलकाता से चला जहाज 1दिनों बाद भी पटना नहीं पहुंच सका है। गंगा में पानी की कमी के चलते जहाज की रफ्तार धीमी पड़ गयी है। इसके पटना पहुंचने में अभी चार-पांच दिन और लगने की संभावना है। भागलपुर के पास गंगा में पानी कम हने से उसे कई जगहों पर रुकना पड़ा है। पर्यटन निगम के मुताबिक जहाज के पटना पहुंचने केबाद ही उसे गंगा में चलाने की तिथि तय होगी। उम्मीद है कि मार्च के अंत तक फ्लोटिंग रस्त्रा से पटनावासी गंगा की सैर कर सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: चार पर्यटन स्थलों पर बनेगा फूडप्लाजा