DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपने गढ़ पलामू में चौतरफा घिरा है राजद

अपने गढ़ पलामू में राजद चौतरफा घिरा है। लोकसभा चुनाव में भी सीट हाथ से निकल गई। गढ़ कैसे बचे और साख कैसे बढ़े? इसकी चिंता में लालू प्रसाद रणनीति बनाने में लगे हैं।

2005 के विधानसभा चुनाव में राजद ने पलामू प्रमंडल की नौ में पांच (गढ़वा, मनिका, लातेहार, विश्रामपुर तथा पांकी) सीट पर जीत हासिल की थी। 2004 के लोस चुनाव तथा 2007 के उपचुनाव में संसदीय सीट पर भी राजद का डंका बजा था। इस चुनाव में राजद की दमदारी पर सबकी नजर है। भाजपा, कांग्रेस, झामुमो, जदयू राजद की घेराबंदी में जुटे हैं। राजद इस घेरा को तोड़ने के लिए बेचैन है।

राजद को लगता है कि वोटों के बंटवारे में उसे लाभ ही होगा। पांकी में राजद ने अपने विधायक विदेश सिंह का पत्ता काटने का निर्णय लिया है। वहां से रंजन यादव लड़ेंगे। झाविमो ने यह सीट कांग्रेस के लिए छोड़ दी है। इससे राजद को राहत मिली थी, लेकिन तालमेल में छतरपुर लोजपा के हिस्से चले जाने से राजद खेमा उदास है। संकेत मिल रहे हैं कि राजद से चुनाव लड़ने के लिए तैयार पूर्व सांसद मनोज भुइंया निर्दलीय लड़ेंगे। डालटनगंज में आजसू ने बॉबी खान तथा पांकी में गुल खान को मैदान में उतारा है। इससे भी समीकरण प्रभावित हो सकता है।

मनिका में कांग्रेस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री रामेश्वर उरांव, तथा डालटनगंज में भाजपा ने इंदर सिंह नामधारी के बेटे दिलीप नामधारी को मैदान में उतारा है। राजद को मनिका बचाने तथा डालटनगंज जीतने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ सकती है। गढ़वा में राजद के दिग्गज माने जाने गिरिनाथ सिंह को भी विरोधियों ने घेरने की रणनीति बनाई है। गिरिनाथ घेराबंदी तोड़ने के लिए दिन-रात एक किए हुए हैं। झामुमो के टिकट से जेल में बंद नक्सली कामेश्वर बैठा के लोकसभा चुनाव जीतने के बाद भी समीकरण बदले हैं। राजद की सीटों पर बैठा की भी नजर है।

वैसे गढ़वा, मनिका, पांकी के साथ हुसैनाबाद में राजद अपना घर बचाने के लिए लगातार कसरत कर रहा है। जदयू ने पूर्व मंत्री मधु सिंह को पांकी तथा रामचंद्र केसरी को भवनाथपुर से मैदान में उतार है। पांकी को लेकर राजद आश्वस्त है, लेकिन कब्जे वाली सीटें बचे इसके लिए उसे अभी से कड़े मैदान का सामना करना पड़ रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अपने गढ़ पलामू में चौतरफा घिरा है राजद