DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली की तैयारी में जुटे किसान

दिल्ली में गन्ने के मुद्दे पर महापंचायत की तैयारी में रालोद नेताओं के साथ-साथ किसान भी जुट गए हैं। किसानों ने जंतर-मंतर पर डेरा डालने के लिए आपस में चंदा इकट्ठा करना शुरू कर दिया है। प्रति बीघा जमीन के हिसाब से चंदा लिया जा रहा है। दिल्ली चलने की रणनीति बनाने में रालोद नेता भी जुटे हुए हैं। गांव-गांव जाकर किसानों से संपर्क साधा जा रहा है। 

पांच तारीख को मेरठ में हुई महापंचायत में उमड़े जनसैलाब को देखते हुए रालोद सुप्रीमो चौ. अजित सिह ने नौ नवंबर को वेस्ट में चक्का जाम और 19 नंवम्बर को दिल्ली संसद के बाहर महापंचायत का ऐलान किया था। नौ तारीख काचक्का जाम सफल होने के बाद रालोद नेताओं और किसानों का जोश और आक्रोश दोगुना हो गया है। दिल्ली में प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए रालोद नेताओ ने किसानों के बीच काम तेज कर दिया है। 

बुधवार को रालोद जिला अध्यक्ष चौ.यशवीर सिंह ने पथौली, भलसौना, नगलाभावा, दबुथवा आदि गांवों में पंचायतें कीं और किसानों से ज्यादा से ज्यादा संख्यामें दिल्ली पहुंचने की अपील की। यहां किसानों ने कहा कि सभी किसान चंदा इकट्ठा कर रहे हैं और दिल्ली की पूरी तैयारी है। उधर रालोद के वेस्ट यूपी के अध्यक्ष सत्यवीर त्यागी, वरिष्ठ नेता डा. राजकुमार सांगवान ने भी कई गांवों में जनसंपर्क किया।

उन्होंने कहा कि 200 रुपए से कम का भाव किसी कीमत पर मंजूर नहीं है। युवा रालोद के प्रदेश प्रवक्ता सुनील रोहटा ने ंचिदौडी, रसुलपुर मढी, बुढढा, भोला आदि गांवो मे नुक्कड सभाएं कीं। रोहटा ने दावा किया कि इस बार मेरठ जिले से 100 बसें दिल्ली जाएंगी। सुखवीर सिह, किशन प्रधान, विनय मल्लापुर, ठाकुर आशाराम, उदयवीर, अमित खोखर, कुशलवीर, विकास व नीतू चौधरी आदि मौजूद रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दिल्ली की तैयारी में जुटे किसान