DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोहना में बनेगा देश आधुनिकतम स्वर्ण शोधन संयंत्र

देश में पहली बार सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के एक संयुक्त उपक्रम के तहत अत्याधुनिक धातु शोधन संयंत्र हरियाणा के सोहना में स्थापित किया जा रहा है जो देश की स्वर्ण की खपत के 50 फीसदी की आपूर्ति करेगा।

सरकारी क्षेत्र की खनिज एवं धातु व्यापार निगम लिमिटेड (एमएमटीसी) ने विश्व की सबसे बडी धातु शोधक कंपनी पैम्प्स एसए स्विट्जरलैंण्ड के साथ यह उपक्रम शुरु किया है जो अगले वर्ष मार्च के अंत तक कार्यशील हो जाएगा।

यह घोषणा एमएमटीसी के अध्यक्ष सह प्रबंधक निदेशक संजीव बत्रा, पैम्प्स एसए स्विट्जरलैण्ड के प्रमुख मेहदी बरखुरदार तथा संयुक्त उपक्रम एमएमटीसी पैम्प्स इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के प्रमुख राजेश खोसला ने एक संवाददाता सम्मेलन में की।

श्री बत्रा ने बताया कि सोहना औद्योगिक क्षेत्र में 11 एकड की भूमि इस संयंत्र की भूमि मिल गई है तथा इसके बिल्कुल पास 10 एकड आवासीय भूमि भी हरियाणा सरकार ने दी है जिस पर कर्मचारियों के आवास बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि संयंत्र का प्रथम चरण अप्रैल तक शुरु हो जाएगा जिसमें 300 टन सोना और 300 टन चांदी का परिशोधन एवं मेडलिंग का काम किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इस संयुक्त उपक्रम के प्रथम चरण में इस पर 147 करोड़ रुपए की लागत आएगी, जिसमें 26 प्रतिशत हिस्सा एमएमटीसी लिमिटेड का, 72 प्रतिशत हिस्सा पैम्प्स का तथा दो प्रतिशत हिस्सा, लगभग 33 करोड रुपए, कर्मचारियों का होगा। लागत में एक तिहाई, करीब 48 करोड़, चल पूंजी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोहना में बनेगा देश आधुनिकतम स्वर्ण शोधन संयंत्र