DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नक्सलियों ने दो स्कूल भवन उड़ाए

माओवादी नक्सलियों ने लातेहार थाना क्षेत्र के मध्य विद्यालय बनबिरवा और कोने विद्यालय का क्लास रूम सोमवार को रात्रि 11 बजे विस्फोट कर उड़ा दिया। घटनास्थल लातेहार शहर से 15 किमी दूर है। विस्फोटक कार्रवाई में 50 नक्सली शामिल थे।

पहले मध्य विद्यालय बनबिरवा को निशाना बनाया गया। पांच स्थानों पर डायनामाइट लगाकर तीन क्लास रूम और एक टीचर रूम को उड़ा दिया गया। फिर वहां से एक किमी दूर मवि कोने को भी उड़ाने का प्रयास किया, किंतु विस्फोटक शक्तिशाली नहीं होने के कारण विद्यालय भवन के एक कमरे को आंशिक क्षति हुई।

नक्सलियों की पूरी कार्रवाई रात्रि एक बजे तक चली। वहां से जाते समय नक्सलियों ने पुलिस मुर्दाबाद-माओवादी जिंदाबाद के नारे भी लगाए। विद्यालय की दीवारों पर हस्तलिखित पोस्टर भी चिपकाया। पोस्टर में लिखा है कि सरकार स्कूलों में पुलिस कैंप लगाकर गरीब बच्चों को शिक्षा से वंचित कर रही है। स्कूल में कैंप क्यों? केंद्र सरकार जवाब दे, जैसे कई स्लोगन लिखे गए हैं। सुबह दस बजे तक घटना स्थल पर पुलिस नहीं पहुंची थी।

नक्सली अपने आधार क्षेत्र में पुलिस के ठिकाने को निशाना बनाते रहे हैं। चुनाव जैसे अवसरों पर पुलिस प्रशासन सुदूरवर्ती इलाकों में स्कूल भवन और स्वास्थ्य केन्द्रों को अपना आशियाना बनाकर नक्सल विरोधी कार्रवाई करती है। नक्सली नहीं चाहते हैं कि पुलिस आसानी से उन तक पहुंचे। यही कारण है कि लोकसभा चुनाव के दौरान भी माओवादियों ने 30 मार्च को सरयू ग्राम स्थित पीएचसी और 31 मार्च को वहां के घासी टोला स्कूल भवन को विस्फोट कर उड़ा दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नक्सलियों ने दो स्कूल भवन उड़ाए