DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ताज को उड़ाने की योजना थी ऑपरेशन नार्दन प्रोजेक्ट

क्या हेडली उर्फ दाउद गिलानी के निशाने पर आगरा का ताजमहल था,  अयोध्या की राम जन्मभूमि या फिर अमेठी के सांसद और कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी। ऑपरेशन नार्दन प्रोजेक्ट, ऑपरेशन मिकी माउस और .हाय टू राहुल.। शिकागो से पिछले महीने गिरफ्तार किए लश्कर आतंकी डेविड कोलमैन हेडली की संगठन के लोगों से ईमेल पर हुई बातचीत में सामने आए इन .कोडवर्डस. अब यूपी की खुफिया एजेन्सियों के दिमाग को भी मथना शुरू कर दिया है। वर्ष 2006 से 07 के बीच दिल्ली के अलावा यूपी के लखनऊ और आगरा में उसके कई बार आने की खबरों के बाद एटीएस व आईबी समेत अन्य कई एजेन्सियों ने एफबीआई एजेन्ट लोरेन्जो बेनडिक्ट के दस्तखत वाले उस दस्तावेज का अध्ययन करना शुरू कर दिया है जिसमें भारत खासतौर यूपी से जुड़ी कई चौंकाने वाली जानकारियाँ हैं।

एक महत्वपूर्ण खुफिया एजेन्सी से जुड़े अधिकारी के मुताबिक आगरा का ताजमहल लश्कर ए तैयबा और कई अन्य खुफिया एजेन्सियों के निशाने पर है। विश्व प्रसिद्ध इस ऐतिहासिक धरोहर को उड़ाकर आतंकी वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए हमले जैसा खौफ पैदा करना चाहते हैं। हेडले व उसके साथियों के बीच ईमेल पर हुई बातचीत में ऑपरेशन मिकी माउस, ऑपरेशन नार्दन प्रोजेक्ट्स और .हाय टू राहुल.जैसे जिक्र आए हैं। इनमें ऑपरेशन मिकीमाउस का खुलासा हो चुका है।

यह ऑपरेशन डेनमार्क के उस काटरूनिस्ट के खात्मे के लिए था जिसने हजरत मोहम्मद साहब का काटरून बनाया था। बाकी दोनों कोडवर्डस के बारे में शक है कि इनका सम्बन्ध उत्तर प्रदेश में किए जाने वाले किसी बड़े हमले से था। खुफिया एजेन्सी को अभी इस बारे में कोई स्पष्ट जानकारी तो नहीं है पर ऐसा माना जा रहा है कि यह हमला या तो ताजमहल पर होना था और या फिर राहुल गांधी पर।

अयोध्या की राम जन्मभूमि भी इसी दायरे में आती है जहाँ लश्कर के लोग लम्बे समय से निशाना साधे हुए हैं। पता चला है कि यह हमले इस साल तब तक हो जाने थे पर अलकायदा कमांडर कश्मीरी पाकिस्तानी के कबायली हमले में मारे जाने के कारण से यह ऑपरेशन पूरा नहीं किया जा सका। कश्मीरी हेडली का खास था। जून 2009 में वह उससे मुलाकात करने पाकिस्तान गया और फिर शिकागो लौट गया।

ईमेल पर हुई बातचीत में हेडले ने कश्मीरी की मौत का कोड संदेश में .हार्टअटैक. कहा है। इस बारे में राज्य के एडीजी कानून व्यवस्था पश्चिमी एके जैन का कहना है कि उन्होंने एटीएस समेत राज्य की सभी एजेन्सियों को सतर्क कर दिया है। अभी हेडली  के बारे में कोई अधिकृत जानकारी उन तक नहीं आई है पर मीडिया के जरिए जो कुछ भी पता चला है, उसकी पड़ताल कराई जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ताज को उड़ाने की योजना थी ऑपरेशन नार्दन प्रोजेक्ट