DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

600 मछुआरे अरब सागर में लापता

600 मछुआरे अरब सागर में लापता

गोवा और गुजरात के लगभग 600 मछुआरे समुद्र में चक्रवाती तूफान आने के बाद या तो अरब सागर में लापता हैं या फंस गए हैं हालांकि उन्हें बचाने के लिए तटरक्षक बल और नौसेना ने अपने पोत और विमानों को रवाना कर दिया है।

कम से कम 35 ट्रालरों पर सवार गोवा के चालक दल के लगभग 200 सदस्य पश्चिमी तट पर तेज चक्रवाती हवाओं के चलने के बाद से लापता हैं जबकि 60 नौकाओं में रवाना हुए गुजरात के लगभग 400 मछुआरे फंस गए हैं। पणजी के निकट मांडवी नदी में मछलियां पकड़ने वाले मालिम जेटी के मछुआरों ने कहा कि 28 से अधिक ट्रालर वापस नहीं आए हैं और उनसे संपर्क टूट गया है।

मांडवी मछुआरा सहकारी सोसायटी के अध्यक्ष मेनिनो अफोंसो ने कहा कि ट्रालरों की संख्या 28 से अधिक हो सकती है। मैं फिलहाल उपलब्ध संख्या की जानकारी दे रहा हूं। प्रत्येक ट्रालर में चालक दल के लगभग छह सदस्य होते हैं। इन ट्रालरों से संपर्क करने की कोशिश निष्फल साबित हुई है।

अफोंसो ने कहा कि इस बात की संभावना है कि वे गोवा के जल क्षेत्र में दूर चले गए होंगे और मालवण (महाराष्ट्र) में भटक रहे होंगे। भारतीय तटरक्षक बलों ने खोजबीन और बचाव कार्य शुरू कर दिया है। बल ने कहा है कि कल से उन्हें लापता लोगों के बारे में ढेरों शिकायतें मिली हैं।

भारतीय तटरक्षक बल के कमांडेंट एके सक्सेना ने कहा कि एक विमान को खोजबीन और बचाव अभियान के लिए तैनात किया गया है। दक्षिण गोवा में कटबोना जेटी के दो ट्रालर और बैतूल जेटी के चार ट्रालर भी लापता बताए गए हैं।

केन्द्र शासित दमन और दीव मत्स्य विभाग की अधिकारी अभिलाषा अग्रवाल ने बताया कि गुजरात के मछुआरे दमन के तट से 40 नॉटिकल मील दूर फंसे हुए हैं। मछुआरे तूफान की चेतावनी जारी होने से दो दिन पहले ही समुद्र में मछलियां पकड़ने निकल चुके थे।

अग्रवाल ने कहा कि हमने मछुआरों को तटरक्षक बलों के माध्यम से संदेश भेजा। वे हेलीकाप्टर की मदद से उन तक पहुंचने का प्रयास कर रहे हैं। भावनगर में जिला प्रशासन ने तीसरे स्तर की चेतावनी जारी की और मछुआरों से कहा कि वे अगले 48 घंटे के लिए समुद्र में न जाएं।

इस बीच, आठ मछुआरों सहित 24 लोगों को नौसेना और तटरक्षक बल के महाराष्ट्र में अरब सागर में बचा लिया। रक्षा मंत्रलय के प्रवक्ता कैप्टन एम नांबियार ने बताया कि एक अवयस्क सहित आठ मछुआरे तूफान की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए अरब सागर में चले गए थे। इन मछुआरों को कोंकण क्षेत्र के रत्नगिरि तट पर नौसेना के चेतक हेलीकाप्टर की मदद से बचा लिया गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:600 मछुआरे अरब सागर में लापता