DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नई शुरुआत करना चाहता हूं: श्रीसंत

नई शुरुआत करना चाहता हूं: श्रीसंत

श्रीलंका के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम में वापसी करने वाले तेज गेंदबाज एस श्रीसंत ने मंगलवार को कहा कि वह पूरे दमखम के साथ इस सीरीज से अपने कैरियर की नई शुरुआत करना चाहेंगे।

गर्म मिजाज के चलते कई बार मुसीबत में घिर चुके इस युवा तेज गेंदबाज का कहना है कि वह अतीत में हुई गलतियों को सुधारते हुए सिर्फ क्रिकेट पर ध्यान देने की कोशिश करेंगे। मध्यप्रदेश के खिलाफ रणजी ट्राफी मैच खेल रही केरल टीम के कप्तान श्रीसंत, भारतीय टेस्ट टीम में अपनी वापसी की घोषणा के बाद मीडिया से बात कर रहे थे।

श्रीसंत ने कहा कि मैं भारत की जीत के लिए पूरे दमखम और लगन के साथ खेलूंगा। जो गलतियां मुझसे पहले हुई हैं, उन्हें सुधारने की कोशिश करूंगा। उन्होंने कहा कि मुझे भारतीय टेस्ट टीम में वापसी के लिए करीब 19 महीने इंतजार करना पड़ा है। मैं श्रीलंका के खिलाफ आगामी टेस्ट सीरीज से अपने करियर की नई शुरुआत करना चाहूंगा और चयनकर्ताओं के भरोसे पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा।

श्रीसंत ने अपना पिछला टेस्ट दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अप्रैल 2008 में कानपुर में खेला था। उन्हें श्रीलंका के खिलाफ 16 नवंबर से अहमदाबाद में शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले दो मैचों के लिए भारत की 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है।

भारत के लिए 14 टेस्ट मैच खेलकर पचास विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज से जब उनके अगले लक्ष्य के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मेरी निगाह अंतरराष्ट्रीय टेस्ट मैचों में सौ विकेट चटकाने के लक्ष्य पर है। मैं हालांकि जानता हूं कि यह सफर लंबा है और इसके लिए मुझे खूब पसीना बहाते हुए एक-एक विकेट जोड़ना होगा। श्रीसंत के मुताबिक वह अपनी पीठ की चोट से पूरी तरह उबर चुके हैं और पूरी तरह फिट हैं।

तुनकमिजाजी के चलते अक्सर मुश्किल में पड़ने वाले इस तेज गेंदबाज ने जोर देकर कहा कि उनके स्वभाव में बड़ा बदलाव हुआ है। उन्होंने कहा कि अब मैं दूसरी चीजों से पूरी तरह ध्यान हटाकर सिर्फ क्रिकेट पर ध्यान देना चाहता हूं। श्रीसंत ने मजाकिया लहजे में कहा कि वह अब सिर्फ गेंदबाजी करते हुए गर्म दिखना चाहेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नई शुरुआत करना चाहता हूं: श्रीसंत