DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेल्थ इंश्योरेंस

हेल्थ इंश्योरेंस, मुसीबत के समय में आपको और आपके आश्रितों को आर्थिक सहायता प्रदान करता है। इसलिए हेल्थ इंश्योरेंस खरीदते समय कुछ बातों को जेहन में रखना चाहिए।

जरूरत के अनुरूप : सबसे पहले यह जानकारी करें कि क्या आपको हेल्थ इंश्योरेंस की जरूरत है। यह भी आंकें कि कितनी कीमत के इंश्योरेंस कवर की आवश्यकता है। गंभीर बीमारी के लिए इंश्योरेंस लेने जा रहे हैं, तो पहले तस्दीक कर लें कि कौन सी बीमारियों का इंश्योरेंस होता है।

पॉलिसी कवर : स्प्लिटिंग पॉलिसी लाभदायक होती है। जहां तक कीमत की बात है, परिवार के सबसे उम्रदराज सदस्य के लिए आप अलग से पॉलिसी ले सकते हैं। सामान्यत: सभी इंश्योरेंस कंपनियां आपके साथ, आपकी पत्नी, दो बच्चों को एक ही पॉलिसी में कवर करती हैं।

कीमत : पॉलिसी की कुल कवरेज कीमत का निर्धारण लोगों की संख्या जिनको आप पॉलिसी के माध्यम से कवर करना चाहते हैं, आपकी स्वास्थ्य सुरक्षा गणना, साथ ही वर्तमान में विभिन्न स्रोतों से मिलने वाले कवरेज को ध्यान में रखकर होती है। आपको सेकेंडरी कवर की कीमत को भी समझना काफी जरूरी है। आपके लिए यह जरूरी है कि परिवार वाली पॉलिसी के साथ, इंडीविजुअल हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी भी खरीदें। ध्यान रखें कि आपके संस्थान द्वारा की जाने वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी तभी तक मान्य होती है, जब तक उस कंपनी से जुड़े हैं।

किसमें नहीं है लागू : कई स्थितियों और बीमारियों में हेल्थ इंश्योरेंस नहीं मिलता जैसे कॉस्मेटिक सजर्री में। 

टीपीए : सुनिश्चित करें जिस अस्पताल में आप इलाज कराने जा रहे हैं, वह टीपीए (थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर) के नेटवर्क में आता हो।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेल्थ इंश्योरेंस