DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुनाफावसूली ने लगाया बाजार की बढत पर ब्रेक

मुनाफावसूली ने लगाया बाजार की बढत पर ब्रेक

पिछले चार दिनों से बढत में रहे शेयर बाजार को मंगलवार को मुनाफा वसूली का ब्रेक लगा। भारी उथल-पुथल भरे कारोबार के बीच मुनाफावसूली से बंबई स्टाक एक्सचेंज का सेंसेक्स 58 अंक और नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 16 अंक गिरा।
 
विदेशी बाजारों में तेजी की खबर रहने के बावजूद स्थानीय स्तर पर बाजार का रूख इसके विपरीत रहा। पिछले चार दिनों से तेज रहे बाजार से संस्थागत निवेशकों ने मुनाफा काटा जिससे दोनों ही प्रमुख सूचकांकों में गिरावट आई। एफएमसीजी, आटो, एचसी, सीडी, पावर, आईटी और रियलटी वर्ग के शेयरों में बिकवाली के जोर से बाजार पर दबाव बना रहा।

बीएसई के सेंसेक्स पर कारोबार की शुरूआत 54 अंको की बढत के साथ 16552.43 अंक पर हुई। हालांकि बीच सत्र में इसमें भारी उतार-चढाव रहा। एक समय यह 16677.53 अंक की उंचाई तक पहुंचने के बाद मुनाफावसूली से 16371.66अंक के निचले स्तर तक लुढक गया और आखिर में कुछ संभलते हुए पिछले कारोबारी दिवस के 16498.72 अंक के मुकाबले 58.16 अंक अर्थात 0.35 प्रतिशत गिरकर 16440.56 अंक पर बंद हुआ।
 
निफ्टी 4898.90 अंक पर स्थिर खुला और बीच करोबार में 4947.70 अंक के ऊंचे और 4860.10 अंक के नीचे जाकर आखिर में पिछले कारोबारी दिवस के 4898.40 अंक के मुकाबले 16.70 अंक अर्थात 0.34 प्रतिशत की गिरावट के साथ बंद हुआ। बीएसई के मिडकैप में 27.42यानी 0.43 प्रतिशत और स्मालकैप में 27.72 यानी 0.38 प्रतिशत की कमी आई।

बीएसई में कुल 2808 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिसमें 1288 मुनाफे में और 1463 घाटे में रहीं जबकि 57 में कोई बदलाव नहीं देखा गया। जी 20 देशों द्वारा मंदी पूरी तरह खत्म होने तक प्रोत्साहन पैकेज जारी रहने का ऐलान करने पर वैश्विक बाजारों में मंगलवार को भी तेजी रही। एशिया प्रशांत क्षेत्र का वैश्विक शेयर सूचकांक एमएससीआई 0.7 प्रतिशत उपर उठा। यूरोप का एफटीएसई यूरोफर्स्ट 0.1 प्रतिशत, ब्रिटेन का एफटीएसई 0.5प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.1 प्रतिशत, जापान का निक्केई 0.6प्रतिशत और हांगकांग का हैंगसेई 0.27 प्रतिशत तेज रहा।

बीएसई के पीएसयू वर्ग में 1.97 प्रतिशत, धातु में 1.37 प्रतिशत, तेल एंव गैस में 0.38 प्रतिशत और बैंकिंग में 0.28 प्रतिशत की तेजी रही जबकि एफएमसीजी और आटो में 2.2 प्रतिशत, एचसी में 0.29 प्रतिशत, सीडी में 0.30 प्रतिशत, पावर में 0.45 प्रतिशत, सीजी में 0.56 प्रतिशत, आईटी में 0.73 प्रतिशत, टेक में 1.39 प्रतिशत और रियलटी में 2.77 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई।
 
सेंसेक्स के आधार वाली कंपनियों में सबसे ज्यादा मुनाफा कमाने वालों में टाटा मोटर्स 2.26 प्रतिशत, स्टेट बैंक आफ इंडिया 2.14 प्रतिशत, रिलायंस 1.39 प्रतिशत, आईसीआईसीआई0.66 प्रतिशत, स्टरलाइट 0.65 प्रतिशत, टाटा पावर 0.54 प्रतिशत, एनटीपीसी 0.31 प्रतिशत और टीसीएस 0.28 प्रतिशत लाभ के साथ शामिल रहीं।
 
सबसे ज्यादा नुकसान उठाने वालों में भारती एयरटेल 4.47 प्रतिशत, हीरोहोंडा 3.27 प्रतिशत, डीएलएफ 3.17 प्रतिशत, रिलायंस काम 2.90 प्रतिशत, मारूति सुजुकी 2.73 प्रतिशत, ओएनजीसी 2.49 प्रतिशत, हिन्द यूनी 2.32 प्रतिशत, हिंडाल्को 2.01 प्रतिशत, विप्रो 1.57 प्रतिशत, रिलायंस इन्फ्रा 1.39 प्रतिशत, भेल 1.19 प्रतिशत, जयप्रकाश 1.11 प्रतिशत, टाटा स्टील 0.90 प्रतिशत, एचडीएफसी 0.71 प्रतिशत, इन्फोसिस 0.71 प्रतिशत, ग्रासिम 0.60 प्रतिशत, एलएंडटी 0.36 प्रतिशत, आईटीसी 0.33 प्रतिशत, सन फार्मा 0.31 प्रतिशत और एचडीएफसी 0.30 प्रतिशत लाभ में रहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुनाफावसूली ने लगाया बाजार की बढत पर ब्रेक