DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीत से सफर समाप्त करना चाहते हैं पोंटिंग

जीत से सफर समाप्त करना चाहते हैं पोंटिंग

भारत के खिलाफ सात वनडे मैचों की सीरीज में 4-2 की अपराजेय बढ़त ले चुकी आस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान रिकी पोंटिंग की जीत की भूख कम होने का नाम नहीं ले रही है और वह यहां डीवाई पाटिल स्टेडियम में बुधवार को होने वाले अंतिम वनडे को भी जीतने को लालायित है।

पोंटिंग ने मैच की पूर्व संघ्या पर मंगलवार को संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि हम भारत दौरे का समापन जीत के साथ करना चाहते हैं। 4-3 के बजाय 5-2 के अंतर से जीत कंगारूओं के लिए ज्यादा संतुष्टि प्रदान करने वाली होगी। उन्होंने कहा कि दुनिया की अन्य टीमें यहां अपनी सशक्त टीम के साथ यहां आती है और भारतीय टीम के खिलाफ जीत के लिए संघर्ष करती नजर आती है लेकिन आस्ट्रेलियाई टीम इस समय अपने नौ प्रमुख खिलाड़ियों के बिना भारत को हराने में सफल हुई है। उन्होंने इन चोटों को आस्ट्रेलियाई टीम के लिए सकारात्मक बताते हुए कहा कि इससे नए खिलाड़ियों को अपना जौहर दिखाने का मौका मिला और आस्ट्रेलियाई टीम की बेंच स्ट्रेंथ भी और मजबूत हो गई।

मध्यक्रम के बल्लेबाज माइकल क्लार्क, उभरते हुए बल्लेबाज कैलम फ्ग्युरुसन, तेज गेंदबाज नाथन ब्रेकन चोटिल होने के कारण भारत दौरे पर नहीं आ सके थे। इसके अतिरिक्त सीरीज शुरू होने के बाद बेट्र ली, टिम पैन, जेम्स होप्स, पीटर सिडल और मोएसेस हेनरिक्स भी चोटिल होकर सीरीज खत्म होने से पूर्व ही आस्ट्रेलिया लौट चुके हैं।

आस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि बैगी ग्रीन कैप हासिल करना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान काम नहीं है लेकिन जब खिलाड़ियों को यह मौका मिलता है तो उन्हें उसी के अनुसार बढ़िया प्रदर्शन करना होता है और सही मायने में इस बार भारत दौरे पर उनकी टीम ने यह कारनामा कर दिखाया है। उन्होंने अपने गेंदबाजों की प्रशंसा करते हुए कहा कि भारतीय परिस्थिति में बल्लेबाजों की मददगार पिच पर गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि गेंदबाजों ने जिस तरह से मजबूत भारतीय बल्लेबाजी क्रम पर दबाव बनाए रखा उसी ने सही मायने में टीम की जीत के लिए आधारशिला तैयार की।

आस्ट्रेलिया को दो वनडे विश्वकप दिलाने वाले कप्तान पोंटिंग ने कहा कि उनकी टीम के सभी खिलाड़ियों ने अहम मौके पर बढ़िया प्रदर्शन कर टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने कहा कि 2011 के एकदिवसीय विश्वकप से पूर्व यह टीम के लिए शुभसंकेत है।

पोंटिंग ने दरियादिली दिखाते हुए भारतीय टीम की भी प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि दौरे पर भारतीय टीम ने गजब इच्छाशक्ति का प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि सीरीज के अधिकतर मैच काफी नजदीकी रहे हैं जो इस बात को दर्शाता है कि भारतीय टीम में मैच जीतने की प्रबल इच्छाशक्ति है। उन्होंने रन बनाने के मामले में सचिन तेंदुलकर की प्रशंसा करते हुए कहा कि बीस वर्षों के अंतरराष्ट्रीय करियर में उन्होंने जो उपलब्धियां अर्जित की है वह सही मायने में अद्भुत है। उन्होंने हैदराबाद में सचिन की 175 रनों की पारी को अद्भुत करार दिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीत से सफर समाप्त करना चाहते हैं पोंटिंग