अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ओपेक को मिली आईईए से चेतावनी

अंतराष्ट्रीय ऊरा एजेंसी (आईईए) ने ओपेक द्वारा बार-बार तेल उत्पादन में कटौती करने की धमकी के मद्देनजर चेतावनी दी है कि इससे वैश्विक संकट और गहराने की आशंका है। आईईए का कहना है कि मंदी के चलते मांग में आई गिरावट की वजह से तेल के दामों में कमी आई है न कि तेल का उत्पदन अधिक होने की वजह से। ऐसे में उत्पादन में कटौती करने या तेल के दाम बढ़ने से स्थिति और बिगड़ सकती है। उल्लेखनीय है कि ओपेक ने हाल ही में तेल उत्पादन में10 लाख बैरल प्रति दिन कटौती करने का निर्णय लिया है। इसके बाद तेल के दामों में कुछ बढ़त देखी जा रही है। उधर, पिछले दो सप्ताह लगातार उथल-पुथल के कारोबार के बीच अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल ओपेक देशों द्वारा तेल उत्पादन में कुछ और कटौती की प्रबल संभावनाओं के बीच 48 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। वैश्विक स्तर पर तेल मांग लगातार सिमट रही है तेल कीमतों पर असर डाला और अप्रैल डिलीवरी के लिए अमेरिकी लाइट क्रूड सेंट उपर 48.02 डॉलर प्रति बैरल और लंदन ब्रेंट क्रूड 61 सेंट की तेजी के साथ 45.70 डॉलर प्रति बैरल बोला गया। ओपेक देश तेल कीमतें उठाने के लिए अपनी ओर से हरसंभव प्रयास कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ओपेक को मिली आईईए से चेतावनी