DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रदेश में 14 नई योजनाएं शुरू

राज्य स्थापना की नवीं वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री डा.रमेश पोखरियाल निशंक ने उत्तराखंड को देश का आदर्श राज्य बनाने का वादा करते हुए 14 नई विकास योजनाओं की घोषणा की । कार्यक्रम में स्वतंत्रता सेनानियों, राज्य आंदोलनकारियों और अशोक चक्र विजेताओं के आश्रितों को सम्मानित किया। जौलीग्रांट एयरपोर्ट को स्वामीरामतीर्थ के नाम पर रखने के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजने तथा कृषि, जड़ी बूटी व योग शिक्षा को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल करने का ऐलान किया। पहले चरण में 670 न्याय पंचायतों के एक-एक गांव में अटल आदर्श ग्राम विकास योजना का भी लोकार्पण किया गया।

गढ़ी कैंट स्थित गोरखा मिलेट्री कालेज में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री डा.निशंक ने विकास पुस्तिका का विमोचन करते हुए कहा कि हमें बड़े संघर्ष व बलिदान के बाद उत्तराखंड मिला। इसे देश व दुनिया का आदर्श राज्य बनाने के लिए सभी को दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सहयोग करना चाहिए। शुरू में किसी भी राज्य को कठिनाई के दौर से गुजरना पड़ता है।

लेकिन विकास की दृष्टि से हम तीन अन्य नवोदित राज्यों से पीछे नहीं है। मिशन 2020 के तहत पर्यटन, ऊर्जा और कई अन्य क्षेत्रों में विकास की कार्य योजना बनाई गई है। चार धाम व हेमकुंड साहिब के विकास की योजना है। राज्य को हर्बल का दुनिया का सबसे बड़ा केंद्र बनाने के लिए भी कार्य योजना है। उन्होंने कहा कि 108  सेवा के जरिए कई लोगों को नया जीवन मिला है।

उन्होंने कहा कि नई योजनाओं के माध्यम से राज्य को नई ऊर्जा मिलेगी। उन्होंने अंतर्राज्यीय बस अड्डे का नामकरण महाराणा प्रताप के नाम पर रखने का ऐलान किया। राज्य आंदोलन के दौरान रासुका में बंदी मेयर विनोद चमोली व स्वर्गीय राजेंद्र शाह की पत्नी को सम्मान स्वरूप पांच हजार रूपए मासिक पेंशन देने की भी घोषणा की। उन्होंने जौलीग्रांट एयरपोर्ट को स्वामी रामतीर्थ के नाम पर करने के लिए केंद्र को प्रस्ताव भेजने की बात कही।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्रदेश में 14 नई योजनाएं शुरू