DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोड़ा जी आपके सितारे गर्दिश में हैं

इस तस्वीर को गौर से देखिए। नाम है देवेंद्र मुखिया उर्फ देवेंद्र भाटिया। कहने को दूध का कारोबार। असली धंधा स्टिंग आपरेशन कर बड़े राजनीतिज्ञों की सीडी तैयार करना। फिर सत्ता की दहलीज तक पहुंच कर लाभ कमाना । घर- नोयडा में। दावा-14 साल तक गांव का मुखिया रहा, इसलिए नाम के साथ मुखिया जुड़ गया। पूर्व मुख्यमंत्री और कोड़ा कांड के नायक मधु कोड़ा से बेहतर रिश्ते। उससे भी ज्यादा मधुर संबंध पूर्व सीएम शिबू सोरेन उर्फ गुरूजी से। यह बात मुखिया खुद स्वीकार करते हैं।

आयकर विभाग के समक्ष हाजिर होने से पहले हिन्दुस्तान ने उनसे विशेष बातचीत की। धाराप्रवाह बोलने में माहिर 55 साल के देवेंद्र मुखिया की बातें उनकी ही जुबानी :मैं अच्छा फेस रीडर हूं। जब मधु कोड़ा मुख्यमंत्री थे, तब मैनें उनकी फेस रीडिंग कर कह दिया था कि आपके सितारे गर्दिश में जाने वाले हैं। उस वक्त बसंत भट्टाचार्य और अरुण श्रीवास्तव साथ थे। कोड़ा इस बात पर नाराज हो गए। इलाज के सिलसिले में मैं जब पुन: उनसे मिलने गया, तो मिलने से इंकार कर दिया।

कोड़ा से मेरे बेहतर संबंध रहे, लेकिन उनसे ज्यादा निकटता शिबू सोरेन उर्फ गुरुजी से रही। गुरुजी जब सरकार बनाने की कवायद कर रहे थे, जब दो विधायकों को मैनेज करने का जिम्मा मुझे मिला। विधायक तीन-तीन करोड़ रुपये मांग रहे थे, लेकिन गुरुजी ने नहीं दिया।

पोर्ट ब्लेयर में कोड़ा ग्रुप ने स्वर्ग की परिकल्पना करते हुए एक होटल बनवाया है। वहां गया तो नहीं, लेकिन बसंत ने बताया था। उसने पानी जहाज का टिकट भी दिया था। कोड़ा और उसके सहयोगी कई बार वहां गए। चर्चा है कि होटल बनाने में 350 करोड़ रुपये खर्च किये गए।

मैं बीमार और निर्दोष हूं। इलाज में सहायता के लिए भीम के माध्यम से कोड़ा के संपर्क में आया। पैसे भी नहीं मिले और बेवजह फंस गया। मेरे घर आयकर विभाग ने छापामारी की, लेकिन कुछ भी नहीं मिला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोड़ा जी आपके सितारे गर्दिश में हैं